Education & CareerJharkhandRanchi

झारखंड: 10 भागों में बंटेगा सरकारी स्कूलों का 9वीं से 12वीं का सिलेबस, इसी माह हो सकता है जारी

Ranchi:  झारखंड राज्य के सरकारी स्कूल (जहां क्लास वन से 12वीं तक की पढ़ाई होती है) में कोरोना महामारी की स्थिति का देखते हुए पढ़ाये जाने वाले एकेडमिक सिलेबस में कटौती होगी.

सिलेबस में कटौती दो ग्रुप में होगी. पहली कटौती क्लास 9 से 12वीं (यह पहला ग्रुप है) तक की की जायेगी. इसके लिए कटौती प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है. कोरोना काल में सिलेबस कैसा हो, इसके लिए कमेटी बनायी गयी थी. इसी कमेटी की सहमति पर सिलेबस में 40 फीसदी तक की कटौती की जानी है.

इसे भी पढ़ें – कोरोना की आड़ में प्राइवेट अस्पतालों ने मचा रखी है लूट, मंत्री बन्ना गुप्ता ने दी चेतावनी, कहा- लाइसेंस करेंगे कैंसिल

जेसीईआरटी (झारखंड काउंसिल ऑफ एजुकेशन, रिसर्च एंड ट्रेनिंग) की ओर से मिली जानकारी के अनुसार पूरे पाठ्यक्रम को 10 भागों में बांटा जायेगा. मौजूदा सिलेबस को चार माह के बराबर कम किया जायेगा. यानी सिलेबस में उतनी कटौती की जायेगी जिसे चार माह में पढ़ाकर पूरा किया जा सके. कटौती के बाद का पाठ्यक्रम इस माह के अंत तक जारी कर दिया जायेगा.

सिलेबस कटौती को लेकर जीसीइआरटी निदेशक की अध्यक्षता में 13 सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया था. कमेटी का गठन कक्षा एक से 12वीं तक के पाठ्यक्रम में कटौती के लिए किया गया था. कमेटी में पहले कक्षा नौ से 12वीं तक के सिलेबस में कटौती करने पर सहमति बनी. इसके बाद कक्षा एक से आठ (यह दूसरा ग्रुप है) पर विचार किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें – झारखंड में 3077 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित, 1925 हुए स्वस्थ्य हुए

कटौती के बाद जारी होगा मॉडल क्वेश्चन पेपर

जैक यानी झारखंड एकेडमिक काउंसिल द्वारा मैट्रिक (10वीं) व इंटर (12वीं) का मॉडल प्रश्न पत्र (जिससे यह पता चलता है कि मूल क्वेश्चन पेपर कैसा होगा) हर साल जारी किया जाता है. एकेडमिक इयर 2020-21 के लिए जैक की ओर से रिवाइज्ड सिलेबस (सिलेबस में कटौती के बाद) जारी होने के बाद मॉडल क्वेश्चन पेपर जारी किया जायेगा.

वहीं जैक ने बताया कि मैट्रिक और इंटर की परीक्षा की तैयारी के लिए झारखंड एकेडमिक काउंसिल द्वारा इस वर्ष पहले की अपेक्षा अधिक सेट मॉडल क्वेश्चन पेपर तैयार किये जा रहे हैं. वहीं इस साल मॉक टेस्ट की संख्या भी बढ़ायी जा सकती है. मैट्रिक और इंटर की परीक्षा को लेकर परीक्षा फॉर्म भरने की प्रक्रिया नवंबर में शुरू होगी.

इसे भी पढ़ें – घोटाला: आंगनबाड़ी सामग्री खरीद में गड़बड़ी, 12 और 18 रुपये में खरीदी 10 रुपये वाली साबुन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button