DhanbadJharkhand

झरिया की 3 लाख से अधिक की आबादी पानी के लिए कर रही है त्राहिमाम

4 दिनों से नहीं हो रही है पानी की सप्लाई, लोगों में आक्रोश

Dhanbad: झरिया की जलापूर्ति व्यवस्था एक बार फिर चरमराई हुई है. चार दिनों से शहर में जलापूर्ति ठप है. ऐसे में यहां पेयजल का गंभीर संकट उत्पन्न हो गया है. झरिया में लोग पानी के लिए त्राहिमाम कर रहे हैं. जलापूर्ति ठप रहने से तीन लाख से अधिक की आबादी परेशान हैं. पानी के लिए लोगों को दर-दर भटकना पद रहा है.

दरअसल झामाडा के जामाडोबा वाटर बोर्ड का 30 इंच और 18 इंच मेन पाईप लाईन फटने से होने यह स्थिति उत्पन्न हुई है. बताया गया कि जामाडोबा बड़कीटांड से 18 इंच मेन पाईप लाईन के ऊपर दर्जनों घर बने हैं. माना जा रहा है घर का वजन पड़ने से पाइप क्षतिग्रस्त हो गया.

इसे भी पढ़ें: मिशन 2024 में 7 पर नहीं बनेगी बात, यूपीए से भी राजद कर सकता है दो-दो हाथ

advt

झामाडा के द्वारा पानी सप्लाई की लचर व्यवस्था कोई नई बात नहीं है आए दिन कोई ना कोई समस्या उत्पन्न होती रहती है और लाखों की आबादी को पानी का संकट झेलना पड़ता हैं. विश्वकर्मा पूजा में भी पानी सप्लाई नहीं होने से झरिया और आसपास के लोग जिला प्रशासन पर काफी आक्रोशित हैं.

वहीं पेयजलापूर्ति से जुड़े झमाडा के (तकनीकी सदस्य) टीएम इंद्रेश शुक्ला ने बताया कि व्यवस्था को बहाल करने की कोशिश की जा रही है. क्षतिग्रस्त पाइप को ठीक कराया जा रहा है. कोशिश है कि रविवार तक लोगो को घरों तक पानी पहुच जाएगा.

adv

इसे भी पढ़ें: हेमंत सरकार ने आशीर्वाद योजना बंद करके किसानों को धोखा दिया : राजकुमार सिंह

4 दिनों से पानी सप्लाई नहीं होने पर पूर्व पार्षद अनूप साव भी जमाडोबा ट्रीटमेंट पलांट पंहुचे. कहा कि अधिकारियों को आम-आवाम की चिंता नहीं है. यही कारण है कि चार दिनों से जलापूर्ति व्यवस्था ठप होने के बावजूद अब तक इस ओर अधिकारियों का ध्यान नहीं गया है.

बुनियादी समस्या के समाधान के लिए कभी भी सार्थक प्रयास नहीं किया जाता है. यही कारण है कि कभी बिजली व्यवस्था बाधित रहती है, तो कभी पेयजला आपूर्ति.

इसे भी पढ़ें: BIG NEWS : पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने दिया इस्तीफा

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: