DhanbadJharkhand

झरिया के टायर शोरूम संचालक रंजीत साव हत्या मामला: 6 घंटे बाद प्रशासन के आश्वासन पर हटा सड़क जाम

Dhanbad: झरिया ऊपर कुली में टायर शोरूम संचालक रंजीत साव की हत्या से आक्रोशित लोगों ने 6 घंटे बाद प्रशासन के आश्वासन पर सड़क जाम हटा ली है. डीएसपी हेड क्वार्टर वन अमर कुमार पांडेय ने परिजनों को 72 घंटे के अंदर आरोपियों को गिरफ्तार करने का वचन दिया. मृत व्यवसायी के भाई रंजन साव को बॉडीगार्ड उपलब्ध कराने की मांग भी मान ली गई है.

डीएसपी अमर कुमार पांडे ने बताया कि परिजनों को 72 घंटे के अंदर कार्रवाई का आश्वासन दिया गया है. इसके बाद सड़क जाम हटा लिया गया है. मामला दर्ज करने की कार्रवाई की जा रही है. घटना का खुलासा जल्द कर लिया जाएगा. वहीं बताया जा रहा है कि उन्होंने कहा कि रविवार 1 मई को एसएसपी संजीव कुमार पीड़ित परिजनों से मुलाकात करेंगे.

इसे भी पढ़ें:Jharkhand PANCHAYAT ELECTION 2022: रांची जिले में अब 194 पदों पर ही होंगे चुनाव, 425 प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित

Catalyst IAS
ram janam hospital

बता दें कि रंजीत साव की हत्याप से स्था नीय लोगों में खौफ और पुलिस-प्रशासन के प्रति गुस्साा है. घटना के विरोध में स्थाीनीय लोगों ने आज सुबह करीब आठ बजे से ही ऊपरकुल्ही में झरिया-सिंदरी मुख्यक मार्ग को जाम कर रखा. प्रदर्शन कर रहे लोग रंजीत का शव बीच सड़क पर रखकर पुलिस-प्रशासन से सुरक्षा की मांग कर रहे थे.

The Royal’s
Sanjeevani

लोगों का कहना है कि झरिया समेत पूरे धनबाद में किसी की जान लेना मामूली बात हो चुकी है और पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है. आक्रोशित लोगों ने रोड पर टायर जला पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए अपराधियों को जल्द से जल्द पकड़ फांंसी पर लटकाने की मांग की है.

मालूम हो कि शुक्रवार की शाम करीब साढ़े चार बजे अपराधियों ने रंजीत की कनपटी पर गोली मारकर हत्या कर दी थी. सीसीटीवी में यह पूरी घटना कैद हो गई है. वारदात को अंजाम देने के बाद अपराधी फरार हो गए. पुलिस ने घटना के बाद शोरूम में लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगाला. छानबीन में अपराधी का हुलिया व चेहरा दिखा है.

अपराधी पहले शोरूम में घुसे. इस दौरान सफाई कर्मी भी शोरूम में घुसी. कर्मी को देख दोनों अपराधी खड़े रहे. कर्मी के जाते ही अपराधी ने रंजीत के सिर में सटाकर तीन गोली मार दी. कुछ मिनट बाद ही रंजीत वहीं गिर गया. पुलिस ने फुटेज को जब्त कर ली है.

इसे भी पढ़ें:राजेश्वरी बी को राज्य पोषण मिशन और निदेशक बाल संरक्षण का अतिरिक्त प्रभार

प्रशासन और झरिया विधायक पर जमकर बरसी रागिनी सिंह

इधर, सड़क जाम हटा लिए जाने के फैसले के बाद पहुंची भाजपा नेत्री रागिनी सिंह प्रशासन और झरिया विधायक पर जमकर बरसीं. कहा कि झरिया में एक माह के अंदर 3 घटनाएं हुई हैं, जिसमें दो की हत्या हुई है. घर में बम फेंक कर दहशत फैलाई गई. लेकिन पुलिस कुछ नहीं कर रही है. पुलिस रात में जग कर कोयला चोरी कराने के काम में लगी है और दिन में सो रही है. इससे अपराधियों का मनोबल बढ़ा है.

धनबाद में व्यवसायी सुरक्षित नहीं: चेतन गोयनका

वहीं मौके पर मौजूद धनबाद जिला चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष चेतन गोयनका ने कहा कि आए दिन व्यवसायियों पर हमले हो रहे हैं. पैसे मांग कर धमकियां दी जा रही हैं. धनबाद में व्यवसायी सुरक्षित नहीं हैं. कई व्यवसायियों को धमकी मिल चुकी है. परंतु पुलिस किसी मामले का खुलासा नहीं कर सकी है. रंजीत साव हत्या मामले में पुलिस ने 72 घंटे के अंदर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है. अगर 72 घंटे में पुलिस कार्रवाई नहीं करती है तो चेंबर की ओर से आंदोलन की रणनीति तैयार की जाएगी.

इसे भी पढ़ें:BIG NEWS : सुप्रीम कोर्ट का आदेश, उपभोक्ता कानून से बाहर नहीं डॉक्टर और स्वास्थ्य सेवाएं, दर्ज हो सकती हैं शिकायतें

Related Articles

Back to top button