न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

झरिया : जीतपुर कोलियरी में घुसे कोयला चोरों ने किया मैनेजर पर हमला, एक चोर को कर्मचारियों ने धर दबोचा   

झरिया में कोलियरी से कोयला चोरी करना स्थानीय लोगों का बड़ा धंधा है.

75

Jharia/Dhanbad : झरिया इलाके के जोरापोखर थाना अंतर्गत सेल के जीतपुर कोलियरी में बुधवार को अचानक अफरा-तफरी मच गई. स्थानीय कोयला चोरों ने कोलियरी के मैनेजर मनीष कुमार पर ही हमला बोल दिया. दरअसल झरिया में कोलियरी से कोयला चोरी करना स्थानीय लोगों का बड़ा धंधा है. जीतपुर कोलियरी के मैनेजर मनीष कुमार ने बताया कि वह जब कोलियरी पहुंचे तो स्थानीय तिवारी बस्ती के 8-10 की संख्या में आये युवक कोयला चोरी कर रहे थे. वह काफी तेजी से कोयला को बोरों में भरकर रख रहे थे. इसी दौरान मैनेजर की नजर चोरों पर पड़ी. जब उन्होंने चोरी कर रहे युवकों को रोका तो कोयला चोरों ने मैनेजर पर ही हमला बोल दिया और हाथापाई पर उतर गए. जब मैनेजर ने शोर मचाना शुरू किया तो चोरों ने मैनेजर के गाड़ी पर भी पथराव कर दिया. जिससे गाड़ी का शीशा क्षतिग्रस्त हो गया.

mi banner add

इसे भी पढ़ें – लोकसभा चुनाव में सहज नहीं है कांग्रेस की राह, अपने ही लगे हैं नैया डुबाने में

कर्मचारियों ने मिलकर एक चोर को पकड़ा

मैनेजर की आवाज सुनकर कोलियरी में काम कर रहे कर्मचारी उन्हें को बचाने के लिए दौड़े. जब चोरों ने बड़ी संख्या में कर्मचारियों को आते देखा तो वहां से भागने लगे.साथ ही कर्मचारियों ने इसकी सूचना सिक्योरिटी इंचार्ज को भी दिया. वहीं कर्मचारियों ने मिलकर एक चोर को पकड़ लिया और जोड़ापोखर पुलिस को सौंप दिया. साथ ही मामले की सूचना कोलियरी मैनेजर के द्वारा जोड़ापोखर थाना सहित बड़े वरीय पदाधिकारियों को भी दी गई.

वहीं इस मामले में जीतपुर कोलियरी के सिक्योरिटी इंचार्ज ने जोड़ापोखर थाने में जाकर लिखित आवेदन दिया. वहीं  आवेदन देने के बाद पत्रकारों से सिक्युरिटी इंचार्ज के बात करने की कोशिश की. लेकिन उसी दौरान बीच में ही जोड़ापोखर थाना के एसआई ने सिक्युरिटी इंचार्ज को हीच में ही रोका और अपने साथ ले गये. जिससे पुलिस की भूमिका पर भी सवाल खड़े होने लगे हैं.

Related Posts

लोहरदगा : मुठभेड़ में JJMP के तीन उग्रवादियों को पुलिस ने किया ढेर, दो AK-47 बरामद

पुलिस के अनुसार कुछ और उग्रवादियों को गोली लगी है जिन्हें उनके साथी लेकर भागने में सफल रहे

इसे भी पढ़ें –  गोल्डेन कार्ड होते हुए भी रिम्स के ऑर्थो वार्ड के मरीजों को नहीं मिल रहा इसका लाभ

पकड़ा गया युवक करता है अवैध ईंट भट्टे का व्यवसाय

वहीं पूरे मामले में मैनेजर मनीष कुमार ने बताया कि घटना के बारे में लिखित आवेदन जोड़ापोखर थाना को दी गई है. साथ ही सेल के उच्च अधिकारियों को भी इससे अवगत करा दिया गया है. साथ ही मैनेजर ने कहा कि अब मामले में पुलिस की कार्यवाई का इंतजार है. स्थानीय लोगों का कहना है कि जिस चोर को पुलिस के हवाले किया गया है, उसका जोड़ापोखर थाना अंतर्गत अवैध ईंट भट्ठा चलता है. साथ ही लोगों का कहना है कि यही वजह है कि उसे पुलिस का संरक्षण भी प्राप्त है. वहीं जब मामले पर जोड़ापोखर पुलिस से जानकारी लेने की कोशिश की गई . तो पुलिस ने फिलहाल कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: