ChaibasaEducation & CareerJamshedpurJharkhand

JEE MAIN RESULT 2022 : नारायणा जमशेदपुर के शिक्षक दंपत्त‍ि का पुत्र बना जेईई मेन का कोल्हान टॉपर, 491 रैंक लाकर सृजन रंजन बने सिटी टॉपर

जेईई मेन में जमशेदपुर के ओवरऑल रिजल्ट में आई गिरावट

Jamshedpur: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने सोमवार को जेईई मेन का फाइनल रिजल्ट जारी कर दिया. सेशन वन और टू के स्कोर के साथ एनटीए ने उम्मीदवारों के रैंक भी जारी कर दिए हैं, जिसके आधार पर देश भर के एनआईटीज में दाखिला होगा. वैसे तो ओवरऑल इस साल जेईई मेन में शहर के विद्यार्थियों के रिजल्ट का ग्राफ गिरा है, लेकिन नारायणा जमशेदपुर के विद्यार्थियों ने शानदार प्रदर्शन किया है. नारायणा के छात्र सृजन रंजन 491 रैंक के साथ कोल्हान में पहले स्थान पर रहे हैं. नारायणा जमशेदपुर के सेंटर निदेशक श्याम भूषण ने बताया कि वैसे तो जेईई मेन में उनका छात्र कोल्हान का टॉपर रहा है, लेकिन समग्रता से देखा जाय तो जेईई मेन में शहर का ग्राफ गिरा है. अभी तक 500 रैंक के भीतर चार-पांच स्टूडेन्ट्स होते थे, लेकिन इस बार केवल एक स्टूडेन्ट है. लेकिन इसका कतई मतलब नहीं है कि जेईई एडवांस का रिजल्ट भी खऱाब होगा.

अमूमन आईआईटी में जाने वाले विद्यार्थियों का फोकस जेईई मेन की बजाय जेईई एडवांस होता है. दोनों परीक्षाओं की प्रकृति अलग होती है. ऐसे में हो सकता है कि जेईई एडवांस का रिजल्ट और सालों से बेहतर हो. बकौल श्याम भूषण, यह बैच प्योर लॉकडाउन बैच है. ये वे बच्चे हैं, जो ग्यारहवीं और बारहवीं की पढ़ाई घरों में रहकर किए. नारायणा के बेहतर रिजल्ट की वजह यह है कि हम लॉकडाउन में भी अपने स्टूडेन्ट्स पर काफी मेहनत किए. ऐसा सिस्टम डेवलेप किया, जिसमें स्टूडेन्ट्स घरों पर रहकर भी अच्छी तरह से पढ़ाई कर अपनी तैयारी कर सके. मुझे पूरा विश्वास है कि उनके तीन स्टूडेन्ट्स जेईई एडवांस में टॉप-500 के अंदर होंगे.
सृजन और कशिश का लक्ष्य जेईई एडवांस


सृजन रंजन और कशिश अग्रवाल का लक्ष्य जेईई एडवांस में अच्छा रैंक लाकर टॉप आईआईटी से पढ़ाई करना है. सृजन के पिता संजय कुमार रंजन और मां भावना कुमारी दोनों नारायणा में फिजिक्स और केमिस्ट्री के शिक्षक हैं.
जेईई में नारायणा के 158 स्टूडेन्ट्स सफल

Sanjeevani


श्याम भूषण ने बताया कि जेईई एडवांस में नारायणा जमशेदपुर सेन्टर के कुल 158 छात्र-छात्राएं सफल रहे हैं. ऑल इंडिया रैंक 50 हजार के अन्दर कुल 72 छात्रों ने अभी तक रैंक हासिल किया है. श्याम भूषण ने बताया कि श्रृजन रंजन एवं कशिश अग्रवाल नारायणा जमशेदपुर सेन्टर के पांच वर्षीय क्लासरूम प्रोग्राम के स्टूडेन्ट्स हैं और दोनों विद्या भारती चिन्मया विद्यालय (टेल्को) के भी छात्र हैं.
25 हजार के अंदर रैंक लाने वाले नारायणा के स्टूडेन्ट्स
नाम रैंक
1.सृजन रंजन ( 491)
2. कशिश अग्रवाल (1514)
3. आदित्य आर्या (1992)
4. सौरभ दुबे ( 4822)
5.ऋषिराज कुण्डू ( 6211)
6. जयदीप त्रिपाठी (6229)
7. श्रुति अर्पणा (8499)
8. प्रांशु राज (9836)
9. राजप्रिया रानी (12056)
10. सिदार्थ राज (15360)
11. अभिनव जी (19045)
12. आदर्श कुमार ( 19113)
13. विष्णुकान्त (20733)
14. हर्ष श्रीवास्तव ( 21011)
15. स्तुति बनर्जी ( 23655)

ये भी पढ़ें- आजाद भारत के इतिहास में सीएसआईआर की पहली महिला डीजी बनी नल्लाथम्बी कलाइसेल्वी, एनएमएल जमशेदपुर समेत देश भर की 38 प्रयोगशाला का करेंगी नेतृत्व 

Related Articles

Back to top button