BiharMain Slider

JDU के विधायक ने सोशल डिस्टेंसिंग को दिखाया ठेंगा, नीतीश के गृह जिले में खुलेआम की बैठक   

Nalanda : बिहार में कोरोना का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है. कोरोना मरीजों की संख्या बिहार में 10 हजार का आंकड़ा पार कर गया है. पटना में तो स्थिती और भी खराब है. लोग काफी डरे हुए हैं और मास्क के इस्तेमाल के साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी कर रहे हैं. लोगों को इसके लिए बिहार सरकार की ओर से जागरूक भी किया जा रहा है. लेकिन कोरोना संकट में इन सभी नियमों की धज्जियां खुलेआम खुद JDU के लोग ही उड़ा रहे हैं.

दरअसल JDU के विधायक रवि ज्योति  नीतीश कुमार के गृह जिला नालंदा में ही महामारी का मखौल उड़ाते नजर आये. विधायक ने नालंदा के राजगीर में विधानसभा क्षेत्र के मानपुर में एक बैठक की. बैठक हरगांवा में हुई और इसमें जदयू बूथ अध्यक्ष, सचिवों के अलावा कार्यकर्ता मौजूद थे. इस बैठक की सबसे खास बात ये थी कि ना तो विधायक और ना ही अन्य किसी ने मास्क पहवा था. और ना ही इस बैठक में सोशल डिस्टेंसिंग का ही ख्याल रखा गय़ा था.

बैठक घंटों चली औक किसी को भी इस दौरान जरा भी कोरोना महामारी के भय का ख्याल नहीं आया. सभी बस अपनी राजनीति चमकाने में लगे थे. पार्टी विधायक की लिहाज से विधायक जी भी बस बिंदास होकर बैठक कर रहे थे. ऐसा लगा जैसे कोरोना काल में भी सभी को बस चुनाव की ही चिंता लगी हुई है.

 कोरोना के 235 मरीज  हैं नालंदा में

इस पूरे मामले में अभी तक ना तो JDU और ना ही विधायक रवि ज्योति की ओर से ही कोई सफाई दी गयी है. इस समय नालंदा जिला में कोरोना मरीजों की संख्या 235 है. जबकि 55 लोगों अभी भी आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराये गये हैं. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक नालंदा में अबतक 3 लोगों की जान कोरोना से जा चुकी है.

इस मामले में सबसे खास बात ये है कि कोरोना संकट के बीच बिहार में जैसे कोविड के मरीज बढ़ रहे हैं, तो बिहार सरकार की ओर से भी कई निर्देश जारी किये गये हैं. बिहार सरकार के गृह विभाग की ओर से सभी DM और SP को लेटर लिखा गया है. जिसमें स्पष्ट रूप से निर्देश है कि जिसमें आम लोगों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग से लेकर मास्क का इस्तेमाल का पालन कड़ाई से करवाना है. और इसके बीच विधायक ने अन्य लोगों को इस तरह से नियम को ताक पर रखकर बैठक की, जो कई सवाल खड़े कर रहा है.

 

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close