BiharMain Slider

तेजस्वी के बयान पर बोली JDU-BJP– लालू राज में हुए कृत्यों का साया हमेशा आपका पीछा करेंगे तो दोषी आप भी

Patna : RJD के कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए तेजस्वी के बिहारवासियों से माफी मांगने के बयान पर राजनीति गरमा गयी है. बैठे बिठाये सत्ता पक्ष को लालू परिवार पर हमला बोलने का एक और मौका मिल गया है. दरअसल तेजस्वी ने कहा था कि लालू और राबड़ी देवी के 15 साल के सत्ता के दौरान जो गलतियां हुईं, उसके लिए वे बिहारवासियों से माफी मांगते हैं.

इसे भी पढ़ें – सरोज खान का आखिरी पोस्ट पढ़ हिल जाएंगे आप, आंखें हो जाएंगी नम

गुड़ खा रहे और गुलगुले से कर रहे हैं परहेज – नीरज कुमार  

तेजस्वी के बयान के बाद अब JDU और BJP हमलावर हो गयी है. और दोनों पार्टियों की ओर से बयानबाजियों का दौर शुरू हो गया है. JDU  नेता नीरज कुमार ने कहा है कि, तेजस्वी गुड़ खा रहे हैं, लेकिन वे गुलगुले से परहेज कर रहे हैं. साथ ही कहा कि लालू वाद को तेजस्वी विचारधारा मान रहे हैं और लालू के शासनकाल को सामाजिक न्याय का पर्याय मान रहे हैं. फिर सवाल खड़े करते हुए नीरज कुमार ने कहा कि, नरसिंहगढ़ में मारे गये दलित अति पिछड़ों का गुनाहगार कौन है. इसके अलावा जो संपत्ति अर्जुन और तरूण यादव के नाम किया गया,उसका गुनहगार कौन है. तेजस्वी इसका जवाब दें.

नीरज कुमार यही नहीं रूके और कहा कि तेजस्वी यादवों के पाली की संपत्ति खुद भोग रहे हैं. और आरजेडी के राजनीतिक विरासत अपराधी, गुंडे और रेपिस्ट हैं. और फिर उसके बाद भी कहना कि , हमारा कोई दोष नहीं है. लेकिन तेजस्वी आप ये जान लें कि दोषी तो आप भी हैं. क्योंकि संपत्ति का सिरजन आपके दौर में भी हुआ है.

RJD के प्रोजक्ट हैं तेजस्वी, तो इस हिसाब से दोषी हुए – नवल यादव       

दूसरी ओर तेजस्वी के बयान पर BJP नेता नवल यादव ने भी हमला बोला है. उन्होंने कहा कि 15 साल के लालू के शासनकाल को भुलाया नहीं जा सकता है,क्योंकि उसी के प्रोडक्ट तेजस्वी यादव हैं. नवल यादव ने कहा कि तेजस्वी यादव RJD के उत्तराधिकारी हैं, तो इस लिहाज से सिर्फ ये कहने काम नहीं चलेगा कि 15 साल पहले वे छोटे थे. लालू के शासनकाल में जो भी कृत हुए, उसका साया हमेशा तेजस्वी का पीछा करेंगे.

इसे भी पढ़ें – GoodNews: कोरोना वैक्सीन जाइसल कैडिला को ह्यूमन ट्रायल के लिए DCGI से मिली मंजूरी

 

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close