न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

बिहार में जदयू एनडीए के साथ रहेगा, पर झारखंड, दिल्ली, हरियाणा में अकेले लड़ेगा विधानसभा चुनाव  

जदयू राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के अनुसार बिहार में जदयू  एनडीए का हिस्सा रहेगा और भाजपा के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगा.

24

Patna : बिहार के बाहर जदयू भाजपा के नेतृत्व वाली एनडीए का हिस्सा नहीं रहेगा. जम्मू कश्मीर, झारखंड, हरियाणा और दिल्ली में होने वाले विधानसभा चुनावों में जदयू अकेले लड़ेगा. बता दें कि नीतीश कुमार ने जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में यह  फैसला लिया है. जदयू राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के अनुसार बिहार में जदयू  एनडीए का हिस्सा रहेगा और भाजपा के साथ मिलकर चुनाव लड़ेगा.

eidbanner

नीतीश कुमार की अध्यक्षता में पटना में सीएम आवास पर हो रही जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में एनडीए की विरोधी ममता बनर्जी के लिए चुनावी रणनीति बनाने का फैसला कर  चर्चा में आये जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर भी मौजूद थे.  बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेता वशिष्ठ नारायण सिंह, प्रवक्ता केसी त्यागी, प्रदेश अध्यक्ष, जिलाध्यक्ष और अन्य कई नेता उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें- मालदीव के बाद श्रीलंका पहुंचे पीएम मोदी,  ईस्टर धमाकों में मारे गये लोगों को श्रद्धांजलि दी

जदयू  की नजर अगले साल के विधानसभा चुनावों पर

मोदी सरकार-2 की कैबिनेट में जदयू के शामिल नहीं होने के बाद से ही सियासी गलियारों में भाजपा-जदयू के बीच दूरी की खबर उड़ने लगी थी. जदयू को एक मंत्री पद का प्रस्ताव दिये जाने से नाराज नीतीश कुमार ने केंद्र सरकार में भागीदारी से मना कर दिया था.  जदयू प्रवक्ता केसी त्यागी का कहना था कि जो प्रस्ताव दिया गया था, वह स्वीकार्य नहीं था.  इसलिए हमलोगों ने यह निर्णय लिया कि जदयू भविष्य में भी एनडीए केंद्रीय कैबिनेट का हिस्सा नहीं होगा.

Related Posts

बिहार में जानलेवा हुई गर्मीः सूबे में 48 लोगों की गयी जान-कई इलाजरत, सीएम ने जताई संवेदना

औरंगाबाद, गया और नवादा में लू के कारण सबसे ज्यादा मौतें

लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद यह जदयू राष्ट्रीय कार्यकारिणी की पहली बैठक हुई.  बैठक में मुख्य रूप से पार्टी संगठन के मुद्दों पर विचार किया जाना तय था. लोकसभा चुनाव के बाद अब जदयू  की नजर अगले साल के विधानसभा चुनावों पर है.  ऐसे में पार्टी लगातार संगठन विस्तार और इसकी मजबूती पर जोर दे रही है.

इसे भी पढ़ें- कोझिकोड में राहुल का रोड शो, कहा, केरल प्रधानमंत्री कार्यालय और नागपुर से नहीं चलेगा

प्रशांत किशोर के  ममता को समर्थन पर प्रतिक्रिया नहीं

मालूम हो कि प्रशांत किशोर के टीएमसी प्रमुख ममता को समर्थन पर प्रतिक्रिया देने से नीतीश कुमार ने किनारा कर लिया था. शनिवार को उन्होंने कहा था कि प्रशांत किशोर चुनावी अभियान में रणनीति बनाते हैं. उनकी कंपनी यह काम करती है.  पार्टी को उनकी कंपनी के कार्यकलाप से कोई लेना देना नहीं है. प्रशांत को जो जिम्मेदारी जदयू से मिली है, उसे वे अपने ढंग से पूरा कर रहे हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: