Education & Career

ऑनलाइन इंजीनियरिंग काउंसलिंग के लिए JCECEB ने अब तक जारी नहीं किया सीट मैट्रिक्स

Ranchi : झारखंड कंबाइंड एंट्रेंस कंपीटिटिव एग्जामिनेशन बोर्ड (जेसीईसीईबी) की ओर से राज्य के इंजीनियरिंग कॉलेजों में नामांकन के लिए काउंसलिंग करनी है. यह काउंसलिंग जेइइ मेन के स्कोर के आधार पर करना है. झारखंड कंबाइंड बोर्ड की ओर से मेरिट लिस्ट तो जारी कर दी गयी है, लेकिन अभी तक सीटों का जिक्र नहीं किया गया है.

गौरतलब है कि देश के अन्य कई राज्य जेइइ मेन के स्कोर के आधार पर अपने यहां के इंजीनियरिंग संस्थानों में नामांकन लेते हैं. ओडिशा, छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों ने इसी आधार पर अपने यहां के इंजीनियरिंग कॉलेजों के सीटों की जानकारी दे दी है.

इसे भी पढ़ें- कनार्टक का नाटक : SC ने शाम छह बजे  स्पीकर के सामने बागी विधायकों को पेश होने को कहा

बीआइटी सिंदरी को लेकर अब तक असमंजस

झारखंड के इंजीनियरिंग कॉलेजों में सबसे बेहतरीन कॉलेज बीआइटी सिंदरी है. विद्यार्थियों के बीच इस कॉलेज में नामांकन को लेकर काफी उत्साह रहता है. लेकिन बोर्ड ने यहां की  जानकारी नहीं दी है.

राज्य में बीआइटी सिंदरी के अलावा दुमका, रामगढ़ व चाइबासा में टेक्नो इंडिया ग्रुप के सहयोग से इंजीनियरिंग कॉलेज चलाए जा रहे हैं. इसके अलावा 14 प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेज भी हैं, जहां नामांकन होना है. इस संबंध में जानकारी के लिए बोर्ड से संपर्क करने का प्रयास किया गया तो संपर्क नहीं हो पाया.

 

इसे भी पढ़ेंःनगर निगम : रखरखाव के अभाव में जर्जर हो गयी 1.40 करोड़ की रोड स्वीपिंग मशीन, नयी खरीदने की तैयारी

नोटिस में बताया कि डाउनलोड सेक्शन में देखें सीट मैट्रिक्स

METRIX LIST

झारखंड कंबाइंड बोर्ड की ओर से इंजीनियरिंग कॉलेजों की संयुक्त काउंसलिंग के आयोजन संबंधी नोटिस जारी किया गया है. यह नोटिस आठ जुलाई को ही जारी किया गया है.

नोटिस की बिंदू संख्या दो में कहा गया है कि शैक्षणिक वर्ष 2019-20 में नामांकन के लिए उपलब्ध सीटों की संस्थावार, कोटिवार जानकारी झारखंड कंबाइंड के वेबसाइट के डाउनलोड कॉलम में देखा जा सकता है. जबकि उक्त कॉलम में किसी तरह की सीट संबंधी जानकारी नहीं है.

इसे भी पढ़ेंःकर्नाटक व गोवा के बाद अब झारखंड में “शुद्धिकरण” की बारी !

11 से 14 करें च्वाइस फिलिंग

इसी नोटिस के मुताबिक काउंसलिंग में शामिल होने के लिए वेबसाइट पर दिये गये लिंक में जा कर रजिस्ट्रेशन करने हो कहा गया है. इसके बाद 11 जुलाई से 14 जुलाई तक संस्थानों की च्वाइस फिलिंग करने को कहा गया है.

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close