JharkhandRanchi

वायर सप्लाई कर रही एजेंसी क्रिस्टल को अगले तीन सालों के लिये JBVNL ने किया ब्लैक लिस्टेड

Chhaya

Jharkhand Rai

Ranchi: झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड की ओर से क्रिस्टल केबल इंडस्ट्रीज को ब्लैक लिस्टेड किया गया है. एजेंसी को ब्लैक लिस्टेड काम में लापरवाही और अनियमितता बरतने के आरोप में किया गया है. एजेंसी पिछले तीन साल से राज्य में वायर आपूर्ति कर रही थी. ग्रामीण क्षेत्रों में विद्युत आपूर्ति के लिये कंपनी को यह दायित्व दिया गया है. नंवबर 2017 को एजेंसी को वर्क ऑर्डर दिया गया था.

वहीं अब इस मामले में जेबीवीएनएल की ओर से 31 जुलाई को एक आदेश जारी किया गया. जिसमें आने वाले तीन सालों के लिये एजेंसी को ब्लैक लिस्टेड करने की बात की गयी है. जारी आदेश एजेंसी के नाम लिखी गयी है. जिसमें टेंडर के शर्तों के मुताबिक वायर सप्लाई नहीं करने की बात की गयी है. गौरतलह है कि हर महीने एजेंसी की ओर से मुख्यालय को 135 किलोमीटर वायर सप्लाई करने की बात टेंडर में की गयी थी.

इसे भी पढ़ें- तो क्या पीएम मोदी ने चीनी घुसपैठ पर “देश से झूठ” बोल कर चीन को फायदा पहुंचाया!

Samford

किसी महीने सप्लाई ही नहीं की गयी वायर

जेबीवीएनएल के जीएम सेल एंड परर्चेस की ओर से यह आदेश जारी किया गया है. जिसमें टेंडर के मुताबिक हर महीने 135 किलोमीटर वायर सप्लाई की बात की गयी. वर्क ऑर्डर मिलने के बाद पहले महीने कंपनी ने एक भी वायर सप्लाई नहीं किया. दूसरे महीने कंपनी की ओर से 60 किलोमीटर वायर की सप्लाई की गयी. तीसरे महीने 50 किलोमीटर और चौथे महीने 25 किलोमीटर वायर सप्लाई की गयी.

कंपनी के नाम जारी आदेश
कंपनी के नाम जारी आदेश

कंपनी ने चार महीने में 135 किलोमीटर वायर आपूर्ति की. जबकि इसे हर महीने इतना आपूर्ति किया जाना था. एजेंसी जेबीवीएनएल को यह सप्लाई दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना के तहत करती थी. जो केंद्र प्रायोजित योजना है. साथ ही राज्य में इसके तहत पिछले कुछ सालों से ग्रामीण विद्युतिकरण पर बल दिया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें- कोरोना काल में देश के बुद्धिजीवियों व वामपंथियों ने निराश किया, जिम्मेदारी नहीं निभाई

कई बार लिखा गया पत्र, लेकिन एजेंसी ने नहीं दिया जवाब

पत्र में लिखा है कि एजेंसी ऑर्डर पूरा करने में पूरी तरह विफल रही. कई बार इस मामले में एजेंसी को रिमाइंडर भेजा गया. लेकिन कभी भी एजेंसी की ओर से सकारात्मक जवाब नहीं दिया गया. जिक्र है कि एजेंसी ने टेंडर के मुताबिक आपूर्ति नहीं करते हुए अचारणहीन व्यवहार किया है. इन बातों के साथ जेबीवीएनएल की ओर से कंपनी परचेज ऑर्डर कैंसल किया गया. साथ ही कंपनी को तीन साल के लिए ब्लैक लिस्टेड किया गया. यह कंपनी कलकत्ता की है. गौरतलब है कि मुख्यालय स्तर से सेल एडं परचेज संबधी जानकारी मुख्यालय स्तर पर रखी जाती है. वहीं इनका स्टोरेज क्षेत्री कार्यालयों में किया जाता है.

इसे भी पढ़ें- अमर सिंह जैसी शख्सियत का ठीक से कंडोलेंस नहीं हुआ

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: