न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आखिरकार केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने मांग ली माफी, आरोपियों को माला पहनाने पर हो रही थी आलोचना

पिता यशवंत सिन्नेहा ने जयंत को बताया था नालायक, सोशल मीडिया पर हो रही थी आलोचना

1,494

Ranchi: रामगढ़ मॉब लिंचिंग के आरोपियों को माला पहनाने के लोकर जबरदस्त आलोचना झेल रहे केन्द्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने आखिरकार अपने कृत्य के लिए खेद जता ही दिया. जयंत सिन्हा ने कहा है कि

वहां जो परिस्थिति थी, और जो बातें बाद में कही गईं, या कही जा रही हैं, दोनों में जमीन आसमान का फर्क है. फिर भी अगर किसी को मेरी किसी भी कार्यशैली से पीड़ा पहुंची है, तो मैं माफी मांगता हूं.

जयंत ने मानी गलती, जताया खेद

hosp3

अपने किये पर खेद जताते हुए जयंत सिन्हा ने कहा कि

मैंने कई बार कहा कि यह मामला सब-ज्यूडिश है. इस मसले पर लंबी चर्चा करना सही नहीं होगा. सभी को न्याय मिलेगा और दोषियों को सजा मिलेगी. जो निर्दोष हैं, उनको न्याय जरूर मिलेगा. जहां तक माला पहनाने का सवाल है, तो इससे गलत इम्प्रेशन गया है. इसका मुझे खेद और दुख है.

जयंत सिन्हा ने पहले अपने कदम को बताया था सही

मॉब लिंचिग के आरोपियों को माला पहनाकर स्वागत करने के अपने कदम को सही ठहराते हुए जयंत सिन्हा ने कहा था कि मैंने भले ही उन लोंगों को सम्मानित किया हो. लेकिन मैं उस कृत्य का समर्थन नहीं करता. अलीमुद्दीन की हत्या गलत थी, लेकिन मैं मानता हूं कि जिनलोगों को हत्या के आरोप में पकड़ा गया उनमें से कई निर्दोष हैं. जयंत सिन्हा ने ये भी कहा था कि वे लोग  उनके घर पर आए थे, इसलिए उन्हें इन लोगों का सम्मान करना पड़ा.

इसे भी पढ़ें-वरिष्ठ नेताओं के बयान का इशारा, झारखंड भाजपा के भीतर सब ठीकठाक नहीं

पिता यशवंत सिन्हा ने कहा था ‘नालायक’ बेटा

मॉब लिंचिंग के आरोपियों का माला पहनाकर स्वागत करने पर पिता यशवंत सिन्हा ने जयंत की आलोचना करते हुए उन्हे ‘नालायक’ तक कहा था. यशवंत सिन्हा ने ट्वीट कर कहा था कि इस मामले पर वे अपने बेटे का समर्थन नहीं करते.
यशवंत सिन्हा ने लिखा, ‘कुछ दिन पहले तक मैं लायक बेटे का नालायक बाप था, लेकिन अब रोल उलट गया है. यही ट्विटर है. मैं अपने बेटे के कृत्य का समर्थन नहीं करता. लेकिन जानता हूं कि इसके बाद भी गालियां पड़ेंगीं. तुम कभी जीत ही नहीं सकते.’

क्या है पूरा मामला

बीफ ले जाने के शक में मारे गए युवक (अलीमुद्दीन) की हत्या के 8 दोषियों को झारखंड हाई कोर्ट ने जमानत दे दी. जमानत मिलने के बाद केंद्रीय मंत्री और यशवंत सिन्हा के पुत्र जयंत सिन्हा ने पिछले शुक्रवार को इनका माला पहनाकर स्वागत किया था. साथ ही इनको जमानत मिलने पर बीजेपी जिला कार्यालय में मिठाई बांटी गई थी.

बीजेपी ने किया था स्वागत

मॉब लिंचिंग के दोषियों को जमानत मिलने पर न सिर्फ जयंत सिन्हा ने उनका स्वागत किया बल्कि बीजेपी कार्यालय में इसका जश्न मनाया गया. इन दोषियों की रिहाई के लिए लगातार आंदोलन करने वाले पूर्व विधायक शंकर चौधरी ने बीजेपी कार्यालय पर ही प्रेस कॉन्फ्रेंस की और जमानत मिलने पर खुशी का इजहार किया. उन्हों्ने कहा, वो कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: