न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू: सदर,  मोहम्मदगंज के बाद हरिहरगंज में भी फ्लॉप हुआ जनता दरबार

जनता नदारद, कुर्सियां रह गयीं खाली

2,014

Palamu: प्रखंड स्तर पर समस्याओं को सुनने और उसके निदान के लिए जनता दरबार का आयोजन करने का निर्णय लिया गया है. लेकिन प्रचार-प्रसार के अभाव में जनता दरबार में केवल कोरम पूरा होता दिख रहा है. जिले के प्रखंडों में पूरे तामझाम के साथ जनता दरबार का आयोजन तो किया जा रहा है, लेकिन फरियादियों की उपस्थिति नहीं के बराबर हो रही है.  हरिहरगंज में बुधवार को प्रखंड परिसर में आयोजित जनता दरबार में जनता की भागीदारी नगण्य रही. टेंट में लगी कुर्सियां खाली रही. अधिकारी जनता की प्रतीक्षा करते रहे,  किन्तु जनता दरबार आयोजन की जानकारी नहीं रहने से ग्रामीणों की उपस्थिति नहीं देखी गयी. जन भागीदारी नहीं रहने से एक भी जनसमस्यों का निष्पादन नहीं हो सका. हालांकि जनता दरबार में आपूर्ति, राजस्व विभाग के स्टॉल लगाये गये थे.

कार्यक्रम का नहीं होता पर्याप्त प्रचार

जनता दरबार में ग्रामीणों की उपस्थिति नगण्य रहने पर बसपा के प्रदेश सचिव राजकुमार गौतम ने नाराजगी जतायी. उन्होंने कहा कि अधिकारियों और पंचायत के प्रतिनिधियों द्वारा जनता दरबार कार्यक्रम का प्रचार प्रसार नहीं करने से लोगों को सरकार की कई महात्वाकांक्षी व जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लोगों को नहीं मिल रहा है. खड़गपुर की मुखिया पुष्पा देवी सहित कई प्रबुद्ध लोगों ने भी जनता दरबार में जनता की गैर मौजूदगी को गंभीरता से लेने की जरूरत बतायी.

प्रखंड कर्मियों और बिचैलियों के गठजोड़ से फ्लाप हो रहे हैं जनता दरबार

गौरतलब है कि तीन-दिन पूर्व मोहम्मदगंज और करीब 15 दिन पूर्व सदर प्रखंड कार्यालय परिसर में भी जनता दरबार का आयोजन किया गया था. लेकिन ग्रामीणों की उपस्थिति नहीं हो सकी. पूरे तामझाम के साथ प्रखंड कार्यालयों में ही केवल तैयारी चलने के कारण जनता दरबार के फ्लॉप हो जा रहा है. जनता दरबार के फ्लॉप होने के पीछे प्रखंड कर्मियों और बिचैलियों के गठजोड़ को भी देखा जा रहा है. फरियादी अगर सीधे जनता दरबार में आ जायेंगे तो बिचैलिये और पदाधिकारियों के बीच योजनाओं को लेकर लेनदेने की प्रवृति खत्म हो जायेगी.

जनता दरबार में ये अधिकारी व कर्मी थे मौजूद

जनता दरबार में हरिहरगंज के बीडीओ हरिशंकर बारीक,  प्रमुख संतोषिया देवी,  उप प्रमुख सीमा देवी के अलावा खड़गपुर पंचायत की मुखिया पुष्पा देवी,  सरसोत की सारो देवी,  कुलहिया के मथुरा बैठा,  कटैया पंचायत के पंसस अमित कुमार सिंह,  हीरा यादव सहित कई सरकारी कर्मी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ेंः पांच घंटे से अधिक समय तक बंद रहा बिरसा चौक गेट, मनरेगाकर्मियों ने सड़क के दोनों ओर बैठकर दिया धरना

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: