JamshedpurJharkhandNEWS

JAMSHEDPUR : प्लास्टिक हटाने के लिए महिलाओं को मिल रही क्लॉथ बैग बनाने की ट्रेनिंग, जुगसलाई क्षेत्र में अभियान ने जोर पकड़ा

Jamshedpur : सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ अभियान जोर पकड़ता जा रहा है. इससे जुगसलाई क्षेत्र भी अछूता नहीं है. नगर परिषद की ओर से क्षेत्र के वार्ड नंबर-5 में इस अभियान की शुरुआत की गयी. उसके बाद उसे तेज गति देने का काम किया जा रहा है. इसके तहत सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध सहित प्लास्टिक के वैकल्पिक स्रोतों को लेकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है. उसके साथ ही प्लास्टिक की जगह वैकल्पिक तौर पर इस्तेमाल होने वाली वस्तुओं को तैयार करने का प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है. इसमें महिलाएं काफी संख्या में भाग ले रही है. उन्हें प्लास्टिक हटाने के लिए क्लोथ बैग बनाना सिखाया जा रहा है. उसके तहत कपड़े एवं जूट से बने झोले का निर्माण करने, रद्दी कागज, न्यूज़ पेपर और ब्राउन पेपर का उपयोग कर पेपर बैग्स एवं ठोंगा बनाने की ट्रेनिंग दी जा रही है. यह अभियान और ट्रेनिंग प्रोग्राम परिषद के ठोस कचरा प्रबंधन की विशेषज्ञ सोनी कुमारी के नेतृत्व में चलाया जा रहा है.

क्या कहते हैं परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी

जुगसलाई नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी जेपी यादव का कहना है कि एक जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक की वस्तुओं के निर्माण के अलावा उसके आयात, भंडारण, वितरण, बिक्री और उपयोग को निषेध किया गया है. इस कारण व्यापारियों के अलावा आम लोगों के समक्ष समस्या उत्पन्न हो गई है. इसी को देखते हुए यह अभियान चलाया जा रहा है. इससे स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को प्लास्टिक के वैकल्पिक स्रोतों से उद्यमिता का मार्ग प्रशस्त किया जा रहा है. साथ ही व्यापारियों को भी समस्या के समाधान के प्रति जागरुक किया जा रहा है.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इन सामानों पर रहेगा प्रतिबंध

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

प्लास्टिक स्टिक युक्त इयर बड्स, गुब्बारों के लिए प्लास्टिक की डंडिया, प्लास्टिक के झंडे, कैंडी स्टिक, आइस क्रीम की डांडिया, पॉलीस्टीरिन (थर्मोकोल) की सजावटी सामग्री.

इसे भी पढ़ें – एसपी के सरप्राइज मॉकड्रील से कोर्ट में मचा हड़कंप, सच्चाई जान सभी रह गए शॉक्ड

Related Articles

Back to top button