न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जमशेदपुर: मंत्रिमंडल विस्तार में नहीं हुई है देरी, फिर भी जितनी जल्दी विस्तार हो राज्य के लिए उतना अच्छा- सरयू

1,712

Jamshedpur :  पूर्वी जमशेदपुर के विधायक सरयू राय ने मंत्रिमंडल विस्तार पर अभी कोई खास देरी नहीं होने की बात कही है. हालांकि जेएमएम-कांग्रेस की सरकार को इसमें जल्दी करने की सलाह दी है.

उनका कहना है कि जितनी जल्दी मंत्रिमंडल का विस्तार होगा, राज्य और सरकार दोनों के लिए उतना अच्छा होगा. नए मंत्री भी पदभार लेकर जल्द काम शुरु कर सकेंगे. सरयू राय ने ये भी कहा कि मंत्रिमंडल विस्तार के लिए पुरानी सरकार के मुखिया भी हफ्ते में दो बार दिल्ली के चक्कर लगाते थे.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

दिल्ली के चक्कर लगाने से काम कम और वक्त ज्यादा बर्बाद होता है. सरयू राय ने ये बातें विभागीय पदाधिकरियों के साथ बैठक के बाद कहीं.

इसे भी पढ़ेंः देशभर में उभरते नये ‘शाहीनबाग’ इमरजेंसी की भयावहता की यादें ताजा कर रहे हैं

कितना काम हुआ और कितना काम बाकी

सरयू राय ने बैठक में ये जानने की कोशिश कि पूर्वी जमशेदपुर में अब तक कितना काम हुआ है और कितना काम बाकी है. उन्होंने खास तौर से बिजली, पानी और सड़क को लेकर सही जानकारी हासिल की.

गर्मी के समय में किसी को भी पानी और बिजली की समस्या से न जुझना पड़े, इसका ख्याल सभी को मिल के रखने की हिदायत दी. अधिकारियों से अपील करते हुए कहा कि उनको इसके लिए क्या करना होगा, ये भी उनको बताया जाए.

इसे भी पढ़ेंः #CAA के विरोध में रांची में एकजुट हुईं महिलाएं, शाहीन बाग की तर्ज पर आंदोलन शुरू  

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

बेसिक सुविधाओं का है अभाव

सरयू राय ने स्पष्ट करते हुए कहा कि पूर्वी जमशेदपुर पर रघुवर दास ने 25 साल तक राज किया. आज भी क्षेत्र के कई इलाको में बेसिक सुविधा नहीं पहुंची है. उनको मिले फीडबैक के अनुसार आज भी छायानगर, भुईयांडीह, ब्राहम्ण बस्ती, बारीडीह जैसे इलाको को 24 घंटे बिजली और पानी के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है.

अधिकारियों के सामने घनी आबादी वाली कॉलोनियों में विकास के नाम पर सड़के तोड़े जाने पर भी आपत्ति जताई. मीडिया से बात करते वक्त उन्होंने विभागवार क्षेत्र के विकास का ब्लू प्रिंट तैयार कर सिस्टम से काम करने का भरोसा भी दिलाया.

इसे भी पढ़ेंः #SC का चुनावी बॉन्ड योजना पर अंतरिम रोक लगाने से इनकार, केन्द्र और निर्वाचन आयोग से मांगा जवाब

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like