न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Jamshedpur: बिना बोर्ड लगाये निजी मकान में चल रहा तहसील कार्यालय, पंजी-2 व खतियान से की जाती है छेड़छाड़

मानगो अंचल के तहसील कार्यालय में बाहरी लोगों का है कब्जा, वीडियो हुआ वायरल

810

Jamshedpur:  जमशेदपुर के मानगो अंचल कार्यालय से अलग मानगो के ही डिमना रोड के टीचर्स कॉलोनी स्थित एक घर में तहसील कार्यालय संचालित किया जा रहा है.

इस कार्यालय के बारे में आम लोगों को जानकारी नही है, लेकिन जमीन कारोबरी धड़ल्ले से अपना काम करा रहे है.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

यहां जमीन कारोबरियों व कर्मचारियों की मिलीभगत से पंजी-2 तथा खतियान एवं म्यूटेशन में छेड़छाड़ कर नामांतरण शुद्धि प्रमाण पत्र जारी करने का मामला भी समाने आ रहा है.

इसके लिए दलाल 5000 से लेकर लाखो रुपये तक ऐंठते हैं. अवैध रूप से चल रहे तहसील कार्यालय के मामले में उपायुक्त से स्थानीय लोगों ने शिकायत की है.

मानगो अंचल के तहसील कार्यालय में काम करते हुए भू-माफियाओ का वीडियो भी वायरल हुआ है. वीडियो में अंचल कार्यालय के कार्मचारियों के साथ-साथ बाहरी व्यक्ति के द्वारा भी दस्तावेजों को उलट-पलट करते देखा जा सकता है.

इसे भी पढ़ें : #Government_Job : केंद्र सरकार में सात लाख नौकरियां, पदों को भरने का निर्देश जारी

सीओ ने कहा-लिखित शिकायत करिये

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

इस मामले में मानगो अंचल की सीओ कामिनी कौशल से उनका पक्ष जानने के लिए जब उनसे बात की गयी तो उन्होंने मीडियाकर्मियों से ही लिखित शिकायत करने की बात कह डाली.

हालांकि उन्होने स्वीकार किया कि उन्हीं के आदेश पर तहसील कार्यालय संचालित किया जा रहा है, पर आगंतुकों द्वारा कार्यालय में घुसकर काम करने की बात से उन्होने साफ इंकार किया.

जब उन्हे कार्यालय के अंदर बैठे बाहरी लोगों की तसवीर और वीडियो दिखाया गया तो उन्होने कहा कि लिखित शिकायत कर दीजिए, मामले की जांच की जायेगी.

इसे भी पढ़ें : सवा सौ साल पुराना गिरिडीह रेलवे स्टेशन बना मॉडल स्टेशन, ध्वज स्मारक में लहराया सौ फीट ऊंचा राष्ट्रीय ध्वज

Related Posts

सरकारी खाते से होती है छेड़छाड़

प्राप्त सूचना के अनुसार इस कार्यालय में खतियान एवं पंजी-2 में छेड़छाड़ कर गरीबों की जमीन को जमीन दलाल के द्वारा पूंजीपतियों के नाम कर दी जाती है.

गरीबों के पास किसी तरह का साधन नहीं होने के कारण वे कुछ भी करने में असमर्थ होते हैं, जिससे इस कार्यालय से सरकारी कर्मचारियों की मिलीभगत से दलालों द्वारा हर महीने लाखों की अवैध कमाई की जाती है. कोई कार्रवाई नहीं होने के कारण कर्मचारियों का मनोबल बढ़ता जाता है.

तहसील कार्यालय में हर दिन जमती है महफिल

जानकारी के अनुसार इस तहसील कार्यालय में प्रतिदिन कर्मचारियों और दलालों के द्वारा काम करने के एवज में की गयी उगाही से शाम होते ही महफिल सज जाती है.

दलाल प्रशांतो को पहले मिल चुकी फटकार

कार्यालय में कागजात से छेड़छाड़ कर रहे दलाल प्रशांतो को पूर्व में भी जमशेदपुर अंचल के तत्कालीन सीओ वाइपी यादव द्वारा कागजात से छेड़छाड़ करने के मामले में फटकार लग चुकी है.

वाइपी यादव के स्थानांतरित होते ही फिर से कार्यालय में प्रशांतो अपनी पैठ जमा चुके हैं.

एक साल से चल रहा कार्यालय, नहीं लगा है बोर्ड

यह कार्यालय पिछले एक वर्ष से संचालित हो रहा है, पर अब तक यहां किसी तरह का बोर्ड नहीं लगाया गया है जिससे की यहां आने जाने वालों को कार्यालय की खबर लगे.

इस मामले में सीओ से बातचीत करने पर उन्होने बताया कि जल्द ही बोर्ड लगा दिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें : झारखंड में सुरक्षित नहीं बैंक और ATM, लगातार हो रही लूट की घटनाएं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like