JamshedpurJharkhand Vidhansabha Election

#Jamshedpur: पूर्वी जमशेदपुर का शुक्रिया अदा करने निकले सरयू, रघुवर के गढ़ में जोरदार स्वागत

Jamshedpur: पूर्वी जमशेदपुर विधानसभा से जीत दर्ज करने के बाद सरयू राय मंगलवार को क्षेत्र की जनता का धन्यवाद करने निकले. रघुवर के गढ़ में भी लोगों ने उनका जोरदार स्वागत किया.

भालुबासा हनुमान मंदिर में बजरंगबली की आरती में शामिल होने के लिए जैसे ही कार से उतरे, ढोल-नगाड़ों की आवाज से उनका स्वागत हुआ.

बता दें कि भालुबासा वो इलाका है जहां रघुवर दास का स्कूल भी है और जिसे रघुवर दास का परंपरागत गढ़ भी माना जाता है.

इसे भी पढ़ें : झामुमो कोटे से इन विधायकों को मिल सकता है मंत्री का पद, जोरों पर है चर्चा

मां शीतला के दर्शन किये, आरती की, सभा में शामिल हुए

सुबह आठ बजे सबसे पहले सरयू राय साकची शीतला मंदिर गये. पूजा-अर्चना की. दर्शन के बाद वह गोलमुरी चौक पर हनुमान मंदिर गये जहां लोगों ने मंदिर की शिफ्टिग को रुकवाने की मांग रखी.

मामले को सुनने के बाद सरयू टेल्को भुवनेश्वरी मंदिर गये. उसके बाद बिरसा नगर में भगवान बिरसा की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया जहां एक जनसभा को संबोधित भी किया.

उसके बाद सरयू राय भालुबासा हनुमान मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचे. पूरे सफर के दौरान सरयू राय को बधाई देने वालों और सेल्फी लेने वालों की कोई कमी नही दिखी.

सरयू राय ने भी किसी को निराश नहीं किया. हाथ जोड़े सबका शुक्रिया अदा करते चले गये.

इसे भी पढ़ें : #Dhullu तेरे कारणः चुनाव परिणाम आने के साथ ही ढुल्लू के गुर्गे दिखाने लगे रंग, यौन शौषण पीड़िता को दी सरेआम जान से मार देने की धमकी

जनता से क्या कहा?

बिरसा नगर संडे मार्केट में भगवान बिरसा की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद सरयू राय ने कहा कि उनका पहला काम है यहां के लोगों को रघुवर दास और उनके परिवार के आंतक से मुक्त कराना जिसकी बात वो चुनाव से पहले कह चुके हैं.

एक बार फिर वादा करते हुए सरयू राय ने कहा कि उनके रहते एक भी मकान नही टूटेगा, लेकिन आतिक्रमण अब आगे न हो इसके लिए प्रशासन के साथ मिलकर काम भी करेंगे.

गोलमुरी बजरंग मंदिर के शिफ्ट होने के मुद्दे पर भी उन्होंने दो टुक कहा की भले ही रघुवर सरकार ने इसको शिफ्ट करने के लिए क्लीयरेंस दे दिया हो लेकिन मंदिर अपनी जगह पर ही रहेगा.

इसे भी पढ़ें : जानें कांग्रेस कोटे से कौन हो सकते हैं मंत्रिमंडल में शामिल, इन नामों पर चर्चा तेज

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: