JamshedpurJharkhand

जमशेदपुर: मानगो वर्कर्स कॉलेज में छेड़खानी का विरोध पड़ा महंगा, कॉलेज कैंपस में घुसकर अपराधियों ने मारा छुरा

Jamshedpur: जमशेदपुर के  मानगो वर्कर्स कॉलेज में मंगलवार को अपराधियों ने दिनदहाड़े कॉलेज कैंपस में घुसकर चाकूबाजी की घटना को अंजाम दिया. इस घटना में करण सिंह राजपूत नाम का छात्र गंभीर रुप से घायल हो गया है. उसे इलाज के लिए एमजीएम अस्पताल ले जाया गया है.

करण के सिर और हाथ पर चाकू से वार किया गया है. चाकूबाजी का सीसीटीवी फुटेज वायरल हो रहा है. जिसमें दो युवक चाकू लहराते हुए कॉलेज कैंपस में करण के पीछे भागते दिख रहे हैं. साथ ही हमला करने के बाद भी कैंपस से चाकू लहराते हुए भागता दिख रहा है.

इस बारे में घायल छात्र करण का कहना है की कॉलेज के बाहर कुछ मनचले लड़कियों से छेड़खानी कर रहे थे, जिसका विरोध करने पर पहले तो मनचलों ने उसके साथ मारपीट की. और जब उनसे बचने के लिए करण क़ालेज परिसर में भागा तो, कॉलेज कैंपस में खदेड़कर उसपर चाकू से वार किया.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें – #Ranchi: नकली पुलिस बन प्याज लदा वाहन लूटने की कोशिश, असली पुलिस की मुस्तैदी से नहीं हो सके सफल

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

कैंपस के बाहर रहता है मनचलों का जमावड़ा

करण समेत कई और छात्रों का भी कहना है की कॉलेज के बाहर हमेशा मनचलों का जमावड़ा लगा रहता है. जो कॉलेज आने-जाने वाली लड़कियों के साथ खुलेआम छेड़खानी करते हैं. कई बार इसकी शिकायत मानगो थाने में भी की गयी.

लेकिन जबतक पुलिस रहती है, तब तक मनचले छेडखानी नहीं करते. लेकिन पुलिस के नहीं रहने पर  मनचले खुलेआम छेड़खानी और भद्दे कमेंट्स करने लगते हैं. विरोध करने वालों को डराया और धमकाया भी जाता है.

इसे भी पढ़ें – सरयू राय को हेमंत सोरेन के लिए प्रचार करना, क्या भारी पड़ सकता है !

जांच में जुटी मानगो पुलिस

सूचना मिलते ही मौके पर मानगो पुलिस पहुंची और जांच में जुट गयी है. मानगो पुलिस सीसीटीवी फुटेज य़भी साथ में ले गयी है, ताकि उसके जरिए युवकों की पहचान हो पाये. इस बारे में थाना प्रभारी का कहना है कि कालेज के प्रिंसिपल से इस बारे में बात गयी है. औ शक के आधार प एफआईआर दर्ज करने को कह दिया गया है. साथ ही उनका कहना है कि चाकूबाजी करने वाले युवकों के स्थानीय होने की संभावना ज्यादा है, जिसकी पहचान और गिरफ्तारी जल्द की कर ली जायेगी.

इसे भी पढ़ें – 2017 में ही पीएम मोदी से कहा था कि लोग कहने लगे हैं कि इससे अच्छी हेमंत सरकार थीः सरयू

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button