JamshedpurJharkhand

जमशेदपुर: अनाथ शकुंतला सबर से मिलीं जिला उपायुक्त, ममता का आंचल पाकर भाव विह्वल हुई शकुंतला

सोमवारी सबर से भी मुलाकात कर जिला उपायुक्त ने उसका कुशलक्षेम जाना, मन लगाकर पढ़ाई करने एवं उत्साहपूर्ण जीवन जीने के लिए दिया हौसला

Jamshedpur : मुसाबनी प्रखंड की अनाथ शकुंतला सबर के बारे में संज्ञान लेते हुए जिला उपायुक्त विजया जाधव ने आज अपने कार्यालय कक्ष में उससे मुलाकात कर कुशल क्षेम जाना. गौरतलब है कि सोहदा माइंस, मुसाबनी की रहने वाली 8 वर्ष की शकुंतला सबर के माता-पिता दोनों की मृत्यु हो चुकी है तथा वर्तमान में अपने चाचा के पास रह रही थी जो कि आर्थिक रूप से इसके देखभाल हेतु सक्षम नहीं थे. समाचार पत्र के माध्यम से पूरा मामला संज्ञान में आने के पश्चात जिला उपायुक्त ने प्रखंड विकास पदाधिकारी मुसाबनी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी को तत्काल समुचित कार्रवाई करने हेतु निर्देश दिए थे तथा शकुंतला से मिलने की भी इच्छा जाहिर की थी.

इसी क्रम में आज उपायुक्त कार्यालय में जिला उपायुक्त ने शकुंतला से मुलाकात किया, इस मौके पर ममत्व का छांव पाकर शकुंतला भी भाव विह्वल हो गई. जिला उपायुक्त ने शकुंतला को ढेऱ सारा प्यार एवं आशीर्वाद देते हुए कहा कि इस कम उम्र में अनाथ होने की खबर झकझोरने वाला था. ऐसे में जिला प्रशासन का दायित्व था कि इस बच्ची के आवासन, पठन-पाठन की समुचित व्यवस्था की जाए ताकि शकुंतला का बचपन भी आम बच्चों जैसा हो सके.

जिला उपायुक्त के पहल पर शकुंतला सबर का नामांकन नेताजी बोस आवासीय विद्यालय, गोलमुरी में कराया गया है. जिला उपायुक्त ने मुलाकात के दौरान शकुंतला को किताबें, टॉफी, हॉर्लिक्स तथा अन्य खाने-पीने का सामान एवं खेलकूद के सामान देते हुए उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनायें दीं. उन्होंने आश्वस्त किया कि शकुंतला को किसी भी तरह की कोई कमी नहीं रखी जाएगी. इसके पठन-पाठन तथा दैनिक जीवन में जो भी जरूरतें होंगी उसका समुचित ख्याल रखा जाएगा.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इस मौके पर सोमवारी सबर से भी जिला उपायुक्त ने मुलाकात कर उसका हाल-चाल जाना तथा उसे विद्यालय में कोई समस्या तो नहीं हो रही इससे जुड़ी जानकारी सोमवारी तथा जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी से ली तथा सोमवारी को मन लगाकर पढ़ाई करने एवं उत्साहपूर्ण जीवन जीने की बात कही.

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

ये भी पढ़ें-  World Hypertension Day 2022: हर चौथा आदमी हाइपर टेंशन का मरीज

Related Articles

Back to top button