Crime NewsJamshedpurJharkhand

Jamshedpur Crime : क्या यह शहर में गैंगवार की शुरुआत है! अपराधियों ने पहले बेटी को पकड़ा, बचाने गये रंजीत पर कर दी फायरिंग, पुलिस के सामने से भागे अपराधी

Jamshedpur : क्या जमशेदपुर में एक बार फिर से गैंगवार की तैयारी है! क्या अमरनाथ सिंह गिरोह के सदस्य रंजीत सिंह उर्फ रंजीत सरदार की हत्या इसकी शुरुआत  है? ऐसे ही कुछ सवाल इस हत्याकांड के बाद उभरे हैं. 3 अक्टूबर को रंजीत पर उस वक्त हमला किया गया, जब वह अपनी बेटी को दुर्गा पूजा घुमाने के लिए टेल्को के सबुज कल्याण संघ गया था. अपराधियों ने पहले रंजीत से बातचीत की और फिर उसकी 13 साल की बेटी को पकड़ लिया. जब रंजीत उसे बचाने गया, तो उसपर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी गयी. घटना को अंजाम देने के बाद अपराधी पुलिस की आंखों के सामने से फरार हो गए. सूचना पाकर परिजन घटना स्थल पहुंचे और घायल पड़े रंजित को तत्काल टीएमएच लेकर पहुंचे जहां जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया गया. रंजीत गुट के लोगों का आरोप है कि विरोधी गुट के लोगों उसकी हत्या की है.

20 सितंबर को ही जेल से छूटकर आया था रंजित
रंजीत को पुलिस ने अप्रैल 2021 में परसुडीह के गदडा से गिरफ्तार किया था. रंजीत के अलावा कई अन्य को भी हथियार के साथ गिरफ्तार किया गया था. इसके अलावा वह कई मामलों में जेल में बंद था. 20 सितंबर को ही वह जेल से बाहर आया था, जिसके बाद विरोधी गुट के अपराधियों की नजर उस पर थी. मौका पाकर उसे खत्म कर दिया गया.

बेटी ने बताई घटना की आंखों देखी
रंजीत की बेटी तरण कौर ने बताया कि वो अपने पापा (रंजीत) और एक साथी के साथ घर से दुर्गा पूजा घूमने निकली थी. सबुज कल्याण संघ के पास दो बाइक पर सवार होकर चार की संख्या में युवक आये और पापा से बातचीत करने लगे. इसी बीच उनमें से एक ने उसे पकड़ लिया और अपने साथ ले जाने लगे. उसने मां को फोन पर जानकारी भी दी की कुछ लोग पापा के साथ झगड़ा कर रहे. जब पापा उसके पीछे आए और ले जाने तो उनपर ताबड़तोड़ गोली चला दी गयी.

जल्द ही पकड़ में आ जाएंगे अपराधी
इधर जानकारी देते हुए सिटी एसपी के विजय शंकर ने बताया कि अपराधी जल्द ही पकड़ जायेंगे. सूचना के अनुसार दो बाइक पर सवार होकर चार अपराधी आए थे पर उनकी संख्या ज्यादा भी हो सकती है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है.

इसे भी पढ़ें : दिल्ली में उतरना चाह रहा था ईरानी विमान, सुखोई को किया गया एक्टिव, तब सीमा से बाहर हुआ जहाज

 

Related Articles

Back to top button