JamshedpurJharkhand

Jamshedpur Adl Society Election : फर्जी वोटर बनाने के मामले में फंसे महासचिव मज्जी रवि, माफीनामा के बाद पुलिस के बाद पुलिस ने बख्शा

Jamshedpur : एडीएल सोसायटी के चुनाव के एक दिन पहले फर्जी वोटर बनाने के मामले का खुलासा हुआ है. इस मामले में सोसायटी के महासचिव रवि कुमार मज्जी की संलिप्तता सामने आई है. मामला सामने आते ही कदमा पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए मज्जी रवि को धर-दबोचा. हालत यहां तक पहुची कि उन्हें कदमा थाने में पुलिस से लिखित माफी मांगनी पड़ी. तब जाकर पुलिस ने उन्हें थाने से छोड़ा. वह भी इस शर्त पर कि चुनाव के दौरान एक भी फर्जी वोटर पकड़ाते है तो उसकी जिम्मेदारी मज्जी रवि की होगी. साथ ही फर्जी वोटरों पर भी कानूनी कार्रवाई की जायेगी. बता दें कि कदमा स्थित एडीएल सोसायटी स्कूल में रविवार को ही सोसायटी के चुनाव को लेकर वोटिंग होनेवाली है. इसे लेकर सोसायटी से जुड़े शहरभर के लोगों में गहमा-गहमी तेज हो गई है.

99 लोगों का रसीद काटने की दी थी जिम्मेदारी

इस मामले में कदमा थाना प्रभारी ने पहले सोसायटी के कर्मचारी के श्रीनिवास को थाने में बुलाकर पूछताछ शुरू कि तो उन्होने स्वीकार कर लिया कि मज्जी रवि ने उनसे 99 लोगों का रसीद काटने को कहा था. यह काम लगभग दस-पंद्रह दिनों पहले ही उनसे करवाया गया था. उसके बाद थाना प्रभारी ने तत्काल कार्रवाई करते हुए मज्जी रवि कुमार धर-दबोचा. उसे थाने में लाकर सख्ती से पूछताछ की गई. तब मज्जी रवि ने अपनी गलती स्वीकार कर ली.

18 सौ 88 सदस्य ही हैं मान्य

पुलिस की पूछताछ में रवि मज्जी ने 1888 सदस्यों की संख्या ही मान्य बताया. बताया गया कि इतने ही मतदाता ही मत डालेंगे, जबकि चार दिन पहले ही सदस्यों की संख्या 19 सौ 87 बताई गई है. ऐसे में मामला अनुमंडल कार्यालय एवं कदमा थाना को गुमराह करने की कोशिश का भी बनता है. वहीं मामला फर्जी वोटर लिस्ट काटने का तो है ही, इसे लेकर पूरे मामले में पुलिस प्रशासन गंभीर है.

इसे भी पढ़े- CHAKRADHARPUR : मोहर्रम को लेकर एसडीओ ने मुस्लिम समुदाय के साथ की बैठक

Related Articles

Back to top button