न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जम्मू कश्मीरः महबूबा मुफ्ती की चिट्ठी के बाद राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने असेंबली भंग की

26

Srinagar: जम्मू कश्मीर में तेजी से बदलते सियासी घटनाक्रम के बीच राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने विधानसभा भंग करने का शासनादेश जारी कर दिया. यह आदेश पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती द्वारा चिट्ठी लिखने के कुछ ही देर बाद ही आ गया. आपको बता दें कि बुधवार शाम में ही पीपल्स डेमोक्रैटिक पार्टी की चीफ महबूबा मुफ्ती ने राज्यपाल को पत्र लिख कर सरकार बनाने का दावा पेश करने की बात कही थी.

राज्यपाल को लिखे पत्र में महबूबा ने कहा, ‘‘चूंकि इस समय मैं श्रीनगर में हूं, इसलिए मेरा आपसे तत्काल मुलाकात करना संभव नहीं होगा और यह आपको इस बाबत सूचित करने के लिए है कि हम जल्द ही राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए आपकी सुविधानुसार मिलना चाहेंगे.’’

क्या लिखा था पत्र में

उन्होंने पत्र शेयर करते हुए ट्वीट किया था कि इसे राजभवन भेजने की कोशिश की जा रही है. उन्होंने कहा था कि जल्द ही आपसे (गवर्नर) मुलाकात होगी. गवर्नर को भेजे पत्र में महबूबा ने लिखा है, ‘जैसा कि आपको पता है पीपल्स डेमोक्रैटिक पार्टी राज्य की विधानसभा में 29 सदस्यों के साथ सबसे बड़ी पार्टी है. आपको मीडिया रिपोर्टों से पता चल गया होगा कि कांग्रेस और नैशनल कॉन्फ्रैंस ने राज्य में सरकार बनाने के लिए हमारी पार्टी को समर्थन देने का फैसला किया है.’ महबूबा ने आगे लिखा, ‘नैशनल कॉन्फ्रैंस के पास 15 और कांग्रेस के पास 12 सदस्य हैं और ऐसे में कुल संख्या 56 हो जाती है. चूंकि मैं श्रीनगर में हूं, तत्काल आपसे मुलाकात करना संभव नहीं है और इसलिए यह आपको सूचना देने के लिए है कि हम आपकी सुविधानुसार जल्द ही राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए मिलना चाहते हैं.’

इसे भी पढ़ें – रीयल्टी क्षेत्र के शीर्ष 100 कारोबारियों की निजी हैसियत 27 प्रतिशत बढ़कर 2.37 लाख करोड़ रुपये

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: