न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जम्मू-कश्मीरः पाकिस्तान में रची गयी पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या की साजिश

210

Shrinagr: जम्मू-कश्मीर पुलिस ने राइजिंग कश्मीर के संपादक और पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या की गुत्थी सुलझाते हुए दावा किया कि साजिश पाकिस्तान में रची गयी. और लश्कर-ए-तैयबा के सदस्यों ने इस साजिश को रचा और इसे नवीद जट्ट समेत प्रतिबंधित संगठन के आतंकवादियों ने अंजाम दिया.

इसे भी पढ़ेंःखूंटीः करीब 72 घंटे बाद रिहा हुए सांसद कड़िया मुंडा के आवास से अपहृत चार जवान

लश्कर ने पाकिस्तान में रची साजिश

मामले की जानकारी देते हुए पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर रेंज) एसपी पाणि ने कहा कि, जम्मू-कश्मीर पुलिस के पास इसबात के पुख्ता सबुत हैं कि ये साजिश पाकिस्तान में आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के सदस्यों ने रची. आईजीपी कश्मीर एसपी पाणी ने प्रेस वार्ता में चार आरोपियों की पहचान जाहिर की. पाणी ने बताया कि चारों लश्कर के सदस्य हैं. इससे पहले पत्रकार की हत्या के बाद सामने आई सीसीटीवी तस्वीरों में इनमें से तीन एक मोटरसाइकल पर सवार नजर आए थे. जबकि चौथा आरोपी पुलिस कस्टडी से फरार नावेद जट्ट है जो पहले भी आतंकी गतिविधियों में शामिल रहा है.

फरवरी में पुलिस हिरासत से फरार हुआ था जट्ट 

कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर रेंज) एस पी पाणि ने संवाददाताओं से कहा कि हत्यारों की पहचान पाकिस्तानी नागरिक जट्ट, दक्षिण कश्मीर के नागरिक मुजफ्फर अहमद और आजाद मलिक के रूप में हुई है, जिन्होंने 14 जून को इस घटना को अंजाम दिया था. उन्होंने कहा कि कई सोशल मीडिया अभियान चलाए गए. उसमें ऑनलाइन प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया गया,  जो कई बार धमकाने वाला था. उन्होंने कहा कि इस तरह के पांच से छह पोस्ट आए. पाणि ने कहा कि  इसके अलावा एक फेसबुक (पेज) और एक ट्विटर हैंडल था. पुलिस के मुताबिक, ‘कुछ मेसेजेस के अलावा एक ट्विटर हैंडल भी लगातार एक जैसे मेसेज शेयर कर रहा था और जांच में पता चला है कि इन्हें पाकिस्तान से ऑपरेट किया जा रहा था.‘ वही दो सोशल नेटवर्किंग साइटों पर अभियान चला रहे एक व्यक्ति की पहचान सज्जाद गुल के रूप में हुई है जो फर्जीवाड़ा से प्राप्त पासपोर्ट के जरिए भारत से भागने में कामयाब रहा.

इसे भी पढ़ेंः सेना का मनोबल तोड़ना कांग्रेस की नीति है, कांग्रेस आतंकियों के हौसले बुलंद कर रही है  : रविशंकर प्रसाद

पाकिस्तान में है सज्जाद गुल !

आईपीजी पाणि ने बताया कि सज्जाद गुल फिलहाल पाकिस्तान में है, और इससे पहले 2003 में दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था और उसने सजा भी काटी थी. बाद में उसने अपनी पढ़ाई फिर से शुरू की और श्रीनगर लौटने से पहले जयपुर से एमबीए की पढ़ाई की. उसे श्रीनगर पुलिस ने आतंकवाद से संबंधित अन्य मामले में 2016 में गिरफ्तार किया था लेकिन उसे बाद में जमानत मिल गई थी.

उन्होंने कहा कि हम स्थानीय अदालत से गुल के खिलाफ गैरजमानती वारंट हासिल करके उसके खिलाफ रेड कार्नर नोटिस जारी कराने के लिए इंटरपोल से बात करेंगे.

बता दें कि कश्मीर के अखबार राईजिंग कश्मीर के संपादक और पत्रकार शुजात बुखारी की 14 जून को  श्रीनगर के लालचौक के पास स्थित प्रेस एन्क्लेव में  गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गयी थी. इस दौरान उनके दो बॉडीगार्डस भी मारे गये थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Related Posts

कर्नाटक : सियासी ड्रामा जारी, फ्लोर टेस्ट अटका,  विधानसभा शुक्रवार तक के लिए स्थगित ,भाजपा  धरने पर

भाजपा अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि वे विश्वास मत पर फैसले तक सदन में रहेंगे.  हम सब यहीं सोयेंगे.

mi banner add

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: