National

जम्मू-कश्मीरः जुमे की नमाज के लिए धारा 144 में दी जायेगी ढील

विज्ञापन

Shrinagar: जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के कमजोर होने के बाद हालात सामान्य करने की कोशिश हो रही है. राज्य को लेकर हुए फैसले का शुक्रवार को पांचवा दिन है.

राज्य में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा बल तैनात हैं. सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम है. धारा 144 लागू है. लेकिन शुक्रवार को कर्फ्यू में ढील दी जायेगी.

इसे भी पढ़ेंःखूंटी-चाईबासा सीमा क्षेत्र पर सीआरपीएफ और नक्सली के बीच मुठभेड़, एक नक्सली ढेर

स्कूल-कॉलेज भी खुलेंगे. शुक्रवार होने के कारण कश्मीर के कई हिस्सों में लोग नमाज़ के लिए बाहर निकलेंगे.

अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहला शुक्रवार होने के कारण ऐसे में हर किसी की नजर राज्य पर है. सेना प्रमुख बिपिन रावत ने गुरुवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को हालात की जानकारी दी.

कर्फ्यू में मिलेगी ढील

जम्मू-कश्मीर में धारा 144 लागू होने से लोगों को परेशानी हो रही है. ऊपर से इंटरनेट और मोबाईल फोन सेवा भी पिछले पांच दिनों से बंद है.

शुक्रवार को देखते हुए कुछ इलाकों में कर्फ्यू में छूट दी जायेगी. जम्मू कश्मीर के राज्यपाल के सलाहकार और सीआरपीएफ के पूर्व चीफ के विजय कुमार ने द इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत में इसकी पुष्टि की है.


जम्मू के उधमपुर, सांबा जिले में स्कूल-कॉलेज खुलने शुरू हो जाएंगे. सभी सरकारी कर्मचारियों को वापस दफ्तर आने को कहा गया है.

इसे भी पढ़ेंःराजधानी में बिना रूट पास के चल रहे 9 हजार ई-रिक्शा, 994 को मिले पास की वैलिडिटी आठ माह पहले खत्म

अधिकारी ने बताया कि लोगों को जरुरी सामान लेने के लिए घरों से निकल रहे हैं. हर रिहाइशी इलाके में शाम के वक्त कुछ दुकानें खुल रही हैं और लोगों को बिना भीड़ लगाये खरीददारी की इजाजत दी जा रही है.

वहीं सोमवार को मनायी जाने वाली बकरीद को लेकर रविवार को फैसला लिया जायेगा. राज्यपाल के सलाहकार के विजय कुमार ने बताया कि हम लोगों को प्रोत्साहित कर रहे हैं कि ईद बेहतर उत्साह और पब्लिक ऑर्डर को बिना बाधित किए मनाये.

हज से वापस आ रहे लोगों को मिलेगा पास

वही कश्मीर ज़ोन के डिविज़नल कमिश्नर बीए खान का कहना है कि अब से कुछ दिनों में हज यात्री रवाना होंगे. जो लोग वापस आ रहे हैं, उनकी जानकारी जल्द ही हज दफ्तर के द्वारा जी जायेगी. जो लोग हज से वापस आ रहे हैं, उन्हें पास दिये जाएंगे.


इससे पहले गुरुवार की शाम पीएम मोदी ने देश को संबोधित करते हुए नए कश्मीर की लकीर खींची और विकास-लोकतंत्र को लेकर कई संदेश दिए.

इसे भी पढ़ेंःमनरेगाः 3.54 लाख कर्ज लेकर कुआं बनाया, सरकार नहीं दे रही पैसा, तनाव में हूं, कहीं आत्महत्या न कर लूं…

Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close