न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जम्मू-कश्मीर : आसिया अंद्राबी ने एनआईए के सामने कबूला, विदेशों से फंड लेकर घाटी में करवाया जाता था प्रदर्शन

आसिया अंद्राबी ने कबूल किया कि वह विदेशी स्रोतों से दान और फंड ले रही थी. इसके एवज में उसकी संस्था दुखतारन-ए-मिल्लत घाटी में मुस्लिम महिलाओं से प्रदर्शन करवाती थी.

34

NewDelhi : जम्मू-कश्मीर की अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के सामने पूछताछ में खुलासा किया है कि वह विदेशी स्रोतों से फंड लेकर घाटी में सेना और सरकार के खिलाफ महिलाओं से प्रदर्शन करवाती थी.  समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार जांच के दौरान आसिया अंद्राबी ने कबूल किया कि वह विदेशी स्रोतों से दान और फंड ले रही थी. इसके एवज में उसकी संस्था दुखतारन-ए-मिल्लत घाटी में मुस्लिम महिलाओं से प्रदर्शन करवाती थी.

इसे भी पढ़ेंः राज्यसभा :  चुनाव आयोग की अधिसूचना से कांग्रेस परेशान,  गुजरात में बिगड़ जायेगा गेम, SC जा सकती है कांग्रेस

मसरत आलम घाटी में पत्थरबाजों और हिंसक आंदोलनों का पोस्टर बॉय था

एनआईए के अनुसार आसिया अंद्राबी ने माना है कि वह विदेशों  से  धन जुटा रही थी और उसका संगठन दुखतारन-ए-मिल्लत घाटी में मुस्लिम महिलाओं के प्रदर्शन का आयोजन कर रहा था. एनआईए ने कहा, अंद्राबी का मलेशिया में उसके बेटे के 2011 के बाद शैक्षिक खर्चों के लिए फंड विदेशी प्रेषण के जरिए जहूर (अहमद शाह) वटाली द्वारा किये जाने से सामना कराया गया.

Related Posts

#MultiPurposeIDCard: आधार, DL, वोटर ID सब के लिए एक ही कार्ड- अमित शाह ने दिया प्रस्ताव

2021 की जनगणना होगी डिजिटल, मोबाइल एप के जरिये जुटाये जायेंगे आंकड़ें

एनआईए के अनुसार वटाली  हवाला के मुख्य वाहकों में से एक  है, जो पाकिस्तान से फंड जुटाता है और प्राप्त करता है. एनआईए ने अपने बयान में मुस्लिम लीग के नेता मसरत आलम का हवाला दिया, जिसने एनआईए अधिकारियों से कहा कि पाकिस्तान समर्थित एजेंट ने विदेश से धन एकत्र किया और हवाला ऑपरेटर्स के जरिए जम्मू-कश्मीर भेजा. मसरत आलम घाटी में पत्थरबाजों और हिंसक आंदोलनों का तथाकथित पोस्टर बॉय था.

इसे भी पढ़ेंः छत्तीसगढ़ पुलिस ने बिस्किट कारखाने से 26 बाल मजदूरों को मुक्त कराया , झारखंड के बच्चे भी शामिल  

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: