न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जेटली का कांग्रेस पर निशाना, वे सेाचते हैं कि उनका जन्म ही शासन के लिए हुआ है  

जब जस्टिस चंद्रचूड़ की बेंच ने इस पर फैसला सुनाया तो लोगों ने सोशल मीडिया पर उनकी आलोचना की. कहा कि कल्पना कीजिए अगर यह फैसला चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने दिया होता तो क्या करते?

15

 NewDelhi :  वित्त मंत्री अरुण जेटली अपने इलाज के लिए अमेरिका में है. लेकिन वे ब्लॉग लिखना नहीं भूल रहे हैं. अपने नये ब्लॉग एक बार फिर जेटली विपक्षी दलों पर हमलावर हुए हैं. बता दें कि अप्रैल मई में होनेवाले लोकसभा चुनाव से पूर्व उन्होंने अपने ब्लॉग में  दावा किया कि कुछ लोग अपने स्वार्थ के कारण एनडीए सरकार की सत्ता में वापसी नहीं चाहते और वही लोग मोदी सरकार के खिलाफ लगातार दुष्प्रचार कर रहे हैं. जान लें कि कांग्रेस पर निशाना साधने के क्रम में जेटली ने लिखा, कुछ लोग हमारी राजनीतिक व्यवस्था में ऐसे हैं जिन्हें लगता है कि उनका जन्म ही शासन के लिए हुआ है.  कुछ ऐसे लोग हैं जो लेफ्ट या अल्ट्रा लेफ्ट की विचारधारा से प्रभावित हैं, उनके लिए एनडीए सरकार यूं भी पूरी तरह से स्वीकार नहीं करने लायक है.

लिखा है कि इस बीच एक दूसरा वर्ग भी सामने आया है, जिनका काम बस लगातार दुष्प्रचार चलाना है.  जेटली ने हमलावर होते हुए लिखा है कि सरकार के विरोध ने नाम पर कुछ लोगों ने अपना अजेंडा चला रखा है. उन्होंने लिखा, लगातार आलोचना करनेवाले लोग सरकार के हर उस प्रस्ताव में जो लोगों के विकास के लिए है कुछ कमियां ढूंढ़ते रहते हैं.

वित्त मंत्री ने चार जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया

hosp3

जेटली ने कहा कि चाहे  सामाऩ्य वर्ग को 10 फीसदी आरक्षण देने की बात हो, आधार, नोटबंदी, जीएसटी, सीबीआई विवाद, आरबीआई और सरकार के संबंध, राफेल फाइटर एयरक्राफ्ट और बिना किसी मुद्दे के सुप्रीम कोर्ट ही हो या फिर जज लोया केस हो, विपक्ष के लेाग आलोचना करने से बाज नहीं आ रहे हैं. जज लोया केस पर  कहा कि जब जस्टिस चंद्रचूड़ की बेंच ने इस पर फैसला सुनाया तो लोगों ने सोशल मीडिया पर उनकी आलोचना की. कहा कि कल्पना कीजिए अगर यह फैसला चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने दिया होता तो क्या करते?

इस क्रम में वित्त मंत्री ने चार जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस की घटना को भी दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया. राफेल मुद्दे पर जेटली ने  विपक्ष को घेरते हुए कहा कि इस पर संसद से सड़क तक कांग्रेस ने झूठा और सरकार की छवि पर चोट पहुंचाने वाला दुष्प्रचार किया. कहा कि संसद में डिबेट में वे हार गये, लेकिन इसके बाद भी कांग्रेस  बाज नहीं आ रही है.

इसे भी पढ़ें : मुंबई में डांस बार खोले जाने को सुप्रीम कोर्ट की हरी झंडी, नोट और सिक्के उड़ाने की इजाजत नहीं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: