न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सीबीआई में प्रोफेशनल गड़बड़ियों को दूर करने के लिए वर्मा और अस्थाना को भेजा गया छुट्टी पर : जेटली

हम आरबीआई की स्वायत्तता का सम्मान करते हैं, लेकिन साथ-साथ हमें उन सेक्टरों पर भी ध्यान देना होगा जो पूंजी की कमी से जूझ रहे हैं.

13

NewDelhi : सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा और स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना को छुट्टी पर भेजे जाने का फैसला सीबीआई में सफाई अभियान को अंजाम देने के लिए किया गया. दोनों को छुट्टी पर भेजने का कारण  प्रोफेशनल कामकाज में आयी गड़बड़ियों को पटरी पर लाने के लिए था. यह बात वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कही. बता दें कि टाइम्स नाउ को दिये एक इंटरव्यू में अरुण जेटली ने एक तरह से सफाई पेश् की. हालांकि इस क्रम में सीबीआई ऑफिसर की याचिका से जुड़े सवाल पर जेटली ने कोई जवाब नहीं दिया. माना कि रिपोर्ट में एजेंसी के कामकाज में गड़बड़ी की बात सामने आयी है.  उन्होंने कहा, जो कुछ भी हुआ वह सीवीसी के पास था.  अब जहां तक बात सरकार की है, हम इसे सुधार की दिशा में उठाया गया पेशेवर पहल मानते हैं.  सरकार द्वारा इसपर ऐक्शन लेने में देरी के सवाल पर कहा, इन सब चीजों को मैं सीबीआई के बेहतरी के रूप में देखता हूं.  मेरा मानना है कि सीबीआई पहले से ज्यादा प्रफेशनल और बेहतर बनने की ओर अग्रसर हो रही है.

आरबीआई की स्वायत्तत्ता से किसी भी तरह का समझौता नहीं

silk_park

आरबीआई और सरकार के बीच खींचतान को लेकर भी पूछे गये सवाल पर वित्त मंत्री ने आरबीआई की स्वायत्तत्ता से किसी भी तरह के समझौते की बात से इनकार किया.  पर कहा कि सरकार को जनता के व्यापक हितों का ध्यान रखना होता है और इससे संबंधित विचार-विमर्श का मतलब किसी संस्थान की शक्ति कम करना नहीं होता. उन्होंने कहा, हम आरबीआई की स्वायत्तता का सम्मान करते हैं, लेकिन साथ-साथ हमें उन सेक्टरों पर भी ध्यान देना होगा जो पूंजी की कमी से जूझ रहे हैं.  जेटली केअनुसार इन समस्याओं के लिए भी हमें आवाज उठानी होगी और आरबीआई के साथ मिलकर हम ऐसा करते भी हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: