Court NewsJharkhandRanchi

स्वतंत्रता दिवस पर बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार में जेल अदालत का आयोजन

Ranchi: 76वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बिरसा मुण्डा केन्द्रीय कारा में जेल अदालत-सह-विधिक जागरूकता शिविर का भी आयोजन किया गया. मौके पर मुख्य अतिथि अपर न्यायायुक्त, प्रथम, रांची दिनेश राय ने बंदियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि उन्हें अपने जीवन में सुधार लानी चाहिये, ताकि अगर कोई गलती हो गयी हो तो वह पुनः न हो सके.वहीं मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी, रांची मिथिलेश कुमार सिंह ने बंदियों को कानून की जानकारी दी. जिला विधिक सेवा प्राधिकार, रांची के सचिव राकेश रंजन ने कहा कि अगर किन्ही के पास अधिवक्ता नहीं है, तो वे प्राधिकार को आवेदन दे सकते है, उन्हें प्राधिकार की ओर से सरकारी अधिवक्ता मुहैया कराया जायेगा.उन्होंने कहा कि अगर किसी भी बंदी को कानूनी सहायता चाहिये तो वे कारा में प्राधिकार की ओर से आने वाले अधिवक्ता से सम्पर्क कर सकते है.

यह भी पढ़े: रांची सिविल कोर्ट में मनाया गया स्वतंत्रता दिवस,27 अधिवक्ता हुए सम्मानित

जेल अदालत में मामलों का हुआ निष्पादन

Sanjeevani

सोमवार को जेल अदालत में छोटे अपराध के दो मामले को संबंधित न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया, जिसमें एक का निष्पादन किया गया. इस अवसर पर समर अफसान, न्यायिक दण्डाधिकारी, प्रथम श्रेणी, केएल गुप्ता, न्यायिक दण्डाधिकारी, प्रथम श्रेणी रांची, कारापाल एवं कई बंदी उपस्थित थे.बता दे कि बिरसा मुण्डा केंद्रीय कारा में विधिक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया, जिसमें सभी विचाराधीन बंदियों को उनके अधिकार, निशुल्क विधिक सहायता प्राप्त करने की जानकारी दी गयी. इस अवसर पर पैनल अधिवक्ता उदय शंकर चौरसिया, इनायत हुसैन अंसारी, मानदेव भगत, अबेलिका कुमारी एवं जेल के पीएलवी उपस्थित रहे.

Related Articles

Back to top button