JharkhandNEWSRanchi

जगन्नाथपुर थाना प्रभारी ने 11 माह में नहीं दिया चार्ज, एसएसपी ने कहा-करायी जाएगी जांच

Ranchi: तीन वर्ष पूर्व लालपुर थाना क्षेत्र में स्थित गहना घर में हुई लूटपाट और गोलीकांड के केस का चार्ज अबतक लालपुर थानेदार को नहीं दिया गया है. केस के अनुसंधानक तत्कालीन लालपुर थानेदार अरविंद सिंह का तबादला 11 माह पहले जगन्नाथपुर थाना हो गया. लेकिन अबतक केस का चार्ज मौजूदा थानेदार को नहीं दिया गया है. हालांकि, पुलिस का दावा है कि मामले की अनुसंधान की जा रही है. ऐसे में पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं. कारोबारी रोहित और राहुल के घरवाले जब भी थाना जाकर इस केस के बारे में जानकारी लेते हैं तो उन्हें अनुसंधान जारी है बोलकर थाना से टरका दिया जाता है. इतना ही नहीं इन अधिकारियों ने क्राइम मीटिंग पूर्व एसएसपी और वर्तमान एसएसपी को गुमराह करता रहा. एसएसपी को बताया गया कि मामले में अनुसंधान चल रहा है. जबकि सच्चाई यह है कि जिस इंस्पेक्टर को इस केस का अनुसंधान करना है उन्हें अभी तक फाइल ही नहीं मिला है. मामले को लेकर सिटी एसपी के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया था. एसआईटी को पता नहीं चल पा रहा है कि अनुसंधानकर्ता कौन है. मामले को लेकर एसएसपी किशोर कौशल ने बताया इस घटना का खुलासा करने के लिए टीम का गठन किया जाएगा. 11 माह से केस का चार्ज नहीं देना यह गंभीर मामला है. इसकी जांच कराई जाएगी.

 

क्या है मामला

लालपुर इलाके में 16 अक्टूबर 2019 को बाइक पर सवार होकर पांच अपराधी गहना घर पहुंचे और लाखों रुपये का जेवरात लूट लिया था. लूटपाट के दौरान दो कारोबारी रोहित खिरवाल और राहुल खिरवाल ने इसका विरोध किया तो दोनों को गोली मार दी गई. पुलिस ओरमांझी तक अपराधियों का पीछा किया था लेकिन वह पकड़ में नहीं आए. एक अपराधी बूटी मोड़ से पहले उतर गया बाकी के अपराधी हजारीबाग होते हुए बिहार भाग गए. सीसीटीवी की जांच में पता चला कि पांच अपराधी बाइक से हथियार लेकर शहर में चार घंटे तक घूमने के बाद घटना को अंजाम दिया था. सीसीटीवी से अपराधियों को चेहरा तो मिल गया लेकिन कोई सुराग नहीं मिल पाया.

Related Articles

Back to top button