न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

जगरनाथ महतो का गिरिडीह लोकसभा से जेएमएम का उम्मीदवार बनना तय, दो दिनों के बाद औपचारिक घोषणा

2,077

Akshay Kumar Jha

eidbanner

Ranchi: गिरिडीह लोकसभा से जेएमएम की तरफ से उम्मीदवार कौन होगा. इस पर कई तरह की बातें सामने आ रही थीं. बीजेपी से टिकट कटने के बाद रवींद्र पांडेय को जेएमएम की तरफ से टिकट दे दिया जाएगा. ऐसी बातें भी होने लगी थीं. जेएमएम से मांडू विधायक जयप्रकाश भाई पटेल का भी नाम कई माध्यम से आया. लेकिन पुष्ट सूत्रों से हवाले से अब खबर आ रही है कि अपने पुराने उम्मीदवार जगरनाथ महतो पर ही हेमंत दांव खेलेंगे.  शनिवार को जगरनाथ महतो रांची में ही थे. उन्होंने रांची से अपनी उम्मीदवारी पुख्ता होने के बाद से ही तैयारी शुरू कर दी. वो रांची से सीधा टुंडी के लिए निकल पड़े. टुंडी विधानसभा गिरिडीह लोकसभा क्षेत्र में आता है.  गिरिडीह लोकसभा इस बार पूरे झारखंड में सबसे ज्यादा चर्चा का विषय रहा. पहला तो यह सीट आजसू के खाते में जाने की वजह से और दूसरा जगरनाथ महतो ही उम्मीदवार होंगे, यह देर से क्लियर होने की वजह से.

इसे भी पढ़ें – लोकसभा चुनाव से पहले झारखंड में पिछले दो दिनों में बरामद हुए 64 लाख

चंद्रप्रकाश चौधरी और जगरनाथ महतो के बीच नॉक-ऑउट

जगरनाथ महतो का नाम क्लियर होने के बाद गिरिडीह लोकसभा पर अब सीधी टक्कर जगरनाथ महतो और चंद्र प्रकाश चौधरी के बीच तय मानी जा रही है. चंद्र प्रकाश चौधरी रामगढ़ से विधायक हैं. राज्य सरकार में मंत्री के पद पर हैं और एक बार हजारीबाग से सांसद का चुनाव 2009 में लड़ चुके हैं. हालांकि वो यह चुनाव बुरी तरह हार गए थे. गिरिडीह लोकसभा क्षेत्र में वो कुछ दिनों से सक्रिय राजनीति कर रहे हैं. वहीं जगरनाथ महतो एक बार 2014 में गिरिडीह लोकसभा सीट से चुनाव लड़ चुके हैं. उन्होंने मोदी लहर के बावजूद बीजेपी के रवींद्र पांडे को कड़ी टक्कर दी थी. सबसे ज्यादा गौर करनेवाली बात यह है कि दोनों उम्मीदवार कुड़मी जाति से हैं. गिरिडीह लोकसभा क्षेत्र में इस जाति विशेष लोगों की संख्या सबसे ज्यादा है. लिहाजा दोनों के टारगेट में यह इसी जाति के वोटर हैं. गिरिडीह लोकसभा की राजनीति को समझने वालों का कहना है कि यह चुनाव काफी दिलचस्प होने वाला है. जीत या हार तो बाद की बात है. लेकिन उससे पहले भी इस लड़ाई में काफी रोमांच आने वाला है.

इसे भी पढ़ें – लोकसभा चुनाव : रोड शो के बाद अमित शाह ने गांधीनगर सीट से नामांकन पत्र किया दाखिल

कुड़मी उम्मीदवार को दे चुके हैं पटखनी, तीन बार से डुमरी से विधायक

जगरनानाथ महतो 2005 से लगातार तीसरी बार डुमरी से विधायक हैं. उन्होंने तीनों बार महतो उम्मीदवार को ही हरा कर जीत हासिल की है. 2005 में राजद के टिकट से लड़ रहे लालचंद महतो को 18,010 वोट, 2009 में जदयू के टिकट से लड़ रहे दामोदर प्रसाद महतो को 13,668 वोट और 2014 में बीजेपी के टिकट से लड़ रहे लालचंद महतो को 32,481 वोट से हराया था. वहीं लोकसभा चुनाव की बात की जाए तो 2014 में बीजेपी के टिकट से लड़ रहे रवींद्र कुमार पांडेय ने जगरनाथ महतो को 40,313 वोट से हराया था. लेकिन इस बार बीजेपी ने गिरिडीह से अपना लोकसभा उम्मीदवार नहीं उतारा है.

मैं ही उम्मीदवार, पूरी तरह से कन्फर्म: जगरनाथ महतो

न्यूज विंग से बात करते हुए जगरनाथ महतो ने बताया कि मैं पूरी तरह से कॉन्फिडेंट हूं कि पार्टी की तरफ से गिरिडीह लोकसभा पर चुनाव लड़ने के लिए टिकट मुझे ही मिलने जा रहा है. बाकी कुछ मैं नहीं बता सकता. फिलहाल रांची में ही हूं. अब टुंडी के लिए निकल रहा हूं.

इसे भी पढ़ें – पुलिस की सख्ती के बाद भी नहीं राजधानी रांची में नहीं रुक रहा ‘सफेद जहर’ का कारोबार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: