Crime NewsJamshedpurJharkhand

जादूगोड़ा : केमिकल टैंक में गिरने से मृत ठेका कर्मी की पत्नी को मिलेगी यूसिल में नौकरी, आंदोलन खत्म

Jadugoda:  केमिकल टैंक में गिरने से मृत ठेका कर्मी पुनू सिंह की पत्नी को यूरेनियम कॉरपोपेशन ऑफ इंडिया (यूसील) में नौकरी मिलेगी. बुधवार दोपहर  कंपनी प्रबंधन और स्थानीय जनप्रतिनिधियों के बीच हुई वार्ता में दोनों पक्षों के बीच सहमति बन गयी.  सहमति के बाद यूसिल गेट पर चल रहा आंदोलन वापस ले लिया गया. मुसाबनी अंचल अधिकारी राम नरेश सोनी की अध्यक्षता में यूसिल जादूगोड़ा प्रशासनिक भवन में त्रिपक्षीय वार्ता के दौरान  कंपनी प्रबंधन ने पहले कर्मचारी क्षतिपूर्ति अधिनियम 1923 के तहत 16 लाख 14 हजार रुपये देने का प्रस्ताव दिया. इसे जनप्रतिनिधियों ने ठुकरा दिया. जनप्रतिनिधियों ने कहा कि मृतक की पत्नी को पैसों के बदले कंपनी में नियोजन दिया जाये. इस पर प्रबंधन के प्रतिनिधि ने बताया कि क्षतिपूर्ति नियोजन में स्थायी नियोजन देने का अधिकार केवल कंपनी के बोर्ड के पास है. उन्होंने कहा कि इस प्रस्ताव को बोर्ड की अगली बैठक में रखा जायेगा तथा अनुमोदन बाद 31 अक्टूबर, 2022 के अंत तक नियुक्ति की प्रक्रिया पूरी की जायेगी.

गौरतलब है कि यूसिल के जादूगोड़ा मिल डिविजन में मंगलवार की दोपहर 26 वर्षीय ठेका कर्मी पुनू सिंह की केमिकल टैंक में गिरने से मौत हो गयी थी. मृत मजदूर के आश्रितों को मुआवजा देने समेत अन्य मांगों को लेकर बुधवार की सुबह मृतक के परिजन, ठेका कर्मी  और स्थानीय ग्रामीण जिला परिषद के पूर्व सदस्य बाघराय मार्डी के नेतृत्व में आंदोलन पर उतर आये तथा यूसीआईएल अस्पताल चौक के पास सड़क जाम कर दी. घंटों गेट जाम करने के बाद मुसाबनी अंचल अधिकारी राम नरेश सोनी की अध्यक्षता में त्रिपक्षीय वार्ता शुरू हुई.  वार्ता में पूर्व जिला परिषद सदस्य बाघराय मार्डी, कुशल सोरेन रोहित सिंह, प्रधान सोरेन प्रमुख रामदेव हेम्ब्रम , प्रशासनिक अधिकारी एवं यूसिल प्रबंधन प्रतिनिधि के तौर पर महाप्रबंधक एसके शर्मा, मनोज कुमार, चंचल मन्ना, राकेश कुमार, पीके कर्मकार, राजा सिन्हा, एमके साहू  आदि उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – Big Breaking : पंकज मिश्रा रहेंगे जेल में, कोर्ट ने 18 तक बढ़ायी न्यायिक हिरासत

Catalyst IAS
ram janam hospital

Related Articles

Back to top button