न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

JAC ने अंतिम समय में आठवीं बोर्ड रिजल्ट किया कैंसिल, जवाब नहीं देना चाहते अध्यक्ष

837
  • प्राथमिक शिक्षकों की बढ़ी समस्या, शामिल हुए थे परीक्षा में पांच लाख से भी ज्यादा छात्र
  • बिना रिजल्ट जारी हुए पश्चिमी सिंहभूम डीईओ ने निकाल दिया नोटिस
eidbanner

Ranchi : झारखंड अधिविद्य परिषद् (जैक) की ओर से आठवीं बोर्ड की परीक्षा आयोजित तो की गई, लेकिन अभी तक इसका रिजल्ट नहीं निकाला गया. जबकि 10 अप्रैल को ही जैक की ओर से रिजल्ट जारी करने की तिथि दी गई थी. लेकिन अंतिम समय में से रिजल्ट जारी नहीं किया गया.

रिजल्ट जारी नहीं होने के कारण प्राथमिक शिक्षकों की परेशानी काफी बढ़ गई है. कुछ शिक्षकों का कहना है कि रिजल्ट जारी हो गया है लेकिन वेबसाइट पर नहीं दिख रहा है. तो वहीं कुछ शिक्षकों का कहना है कि रिजल्ट जारी ही नहीं किया गया है. इस संबध में शिक्षकों के बीच असमंजस है.

यह दूसरी बार है जब राज्य में आठवीं बोर्ड की परीक्षा आयोजित की गई. 2017 में पहली बार जैक की ओर से आठवीं बोर्ड की परीक्षा आयोजित की गई थी. शिक्षकों ने जानकारी दी कि साल 2017 में निर्धारित समय पर जैक ने रिजल्ट जारी कर दिया था. गौरतलब है कि उस वक्त परीक्षा 11 फरवरी को ली गई थी.

इसे भी पढ़ें- राजनीतिक हलकों में चर्चा,  बहन मायावती क्या 23 मई के बाद भाजपा के साथ गठबंधन कर लेंगी?

बिना रिजल्ट जारी हुए ही रीजल्ट को बताया असंतोषजनक

Related Posts

विधानसभा चुनाव : कांग्रेस और जेएमएम ने बनायी विशेष रणनीति, स्थानीय मुद्दों पर रहेगा जोर 

लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद आगामी विधानसभा चुनाव के लिए महागठबंधन के घटक दलों ने सांगठनिक मजबूती पर काम शुरू कर दिया है.

इधर, 10 अप्रैल को जैक की ओर से रिजल्ट जारी भी नहीं किया गया. और पश्चिमी सिंहभूम के डीईओ ने 11 अप्रैल को पत्र निर्गत कर दिया कि साल 2019 की आठवीं बोर्ड की परीक्षाफल जिला में असंतोषजनक है. जिसका विश्लेषण आवश्यक है.

इतना ही नहीं रिजल्ट असंतोषजनक बताने के बाद इस संबध में डीईओ ने प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी और प्रखंड कार्यक्रम पदाधिकारी को जानकारी उपलब्ध कराने का आदेश भी दे दिया है. प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रधान सचिव चित्तरंजन कुमार ने जानकारी दी कि डीईओ की ओर से ऐसा पत्र निर्गत करना शिक्षकों को असमंजस में डाल रहा है. क्योंकि जैक बेवसाइट में रिजल्ट दिखा ही नहीं रहा है. उल्लेखनीय है कि राज्य में प्राथमिक शिक्षक लगभग 40,000 है. वहीं परीक्षा में लगभग पांच लाख 50 हजार छात्र शामिल हुए थे.

इसे भी पढ़ें- कांग्रेस के तंज पर केंद्रीय मंत्री का पलटवारः ‘चाहे जितना अपमानित किया जाए, अमेठी के लिये काम करती…

जवाब नहीं देना चाहते जैक अध्यक्ष

जब जैक अध्यक्ष अरविंद प्रसाद सिंह से पूछा गया कि जैक की ओर से आठवीं बोर्ड रिजल्ट क्यों नहीं जारी किया जा रहा है. तो इस सवाल का जवाब देते उन्होंने कहा कि इसका जवाब मैं नहीं दे सकता. 10 अप्रैल को तिथि दी गई थी. लेकिन रिजल्ट जारी नहीं हो पाया. आने वाले 15 या 16 अप्रैल तक रिजल्ट जारी किया जा सकता है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: