JharkhandRanchi

चार साल से बनकर तैयार ITI भवन हो रहे बर्बाद, अब तक शुरू नहीं हुई पढ़ाई

Ranchi: झारखंड सरकार की ओर से चार पहले आइटीआइ संचालन के लिए बनाये गये भवन या तो बेकार पड़े हैं या फिर बर्बाद होने की स्थिति में आ गये हैं. सरकार की ओर से बनाये गये 30 आइटीआइ को कौशल विकास मिशन सोसाइटी की ओर से इंपैनल्ड किये गये ट्रेनिंग दिलाने वाले संस्थाओं को संचालन के लिए देना था.

Advt

विभिन्न संस्थानों ने बताया कि कोर्स शुरू करने के लिए समुचित व्यवस्था नहीं दी गयी है. गौरतलब है कि रघुवर दास सरकार के समय राज्य के विभिन्न जिलों में 30 आइटीआइ भवन बनाये गये हैं, इसमें से 05 आइटीआइ महिलाओं के लिए हैं.

इसे भी पढ़ें- #Corona से देश में तीसरी मौतः महाराष्ट्र में 64 साल के बुजुर्ग ने तोड़ा दम,128 पॉजिटिव

एग्रीमेंट के बाद भी शुरू नहीं हुआ संचालन

ऐसे ही आइटीआइ भवन में से एक है हजारीबाग के इचाक प्रखंड के बोंगा गांव में बना भवन. साल 2016 को ही यह भवन बन कर तैयार हो चुका है. इस भवन में आइटीआइ संचालन के लिए विनायका फंडामेंटल रिसर्च एजुकेशन सोसाइटी, रांची को जिम्मेदारी दी गयी है. पर अब तक यहां आइटीआइ का संचालन शुरू नहीं हो पाया है. जबकि श्रम, नियोजन व प्रशिक्षण विभाग के मुताबिक 5 सितंबर 2019 को ही यह भवन एग्रीमेंट कर दिया गया है.

इस संबंध में पूछे जाने पर विनायका फंडामेंटल रिसर्च एजुकेशन सोसाइटी के अधिकारी ने बताया कि एग्रीमेंट पहले हो चुका है, लेकिन दो माह पहले भवन हैंडओवर किया गया है. इस भवन में अभी रिपेयरिंग का काम चल रहा है. भवन तक पहुंचने के लिए न तो सड़क है और न ही बिजली का कनेक्शन दिया गया है.

इसे भी पढ़ें- झारखंड के नवनियुक्त #DGP एमवी राव ने CM हेमंत सोरेन से की शिष्टाचार मुलाकात

इन जिलों में बने भवनों की भी हालत खराब

इसी तरह चतरा, गोड्डा, गिरीडीह, पूर्वी सिंहभूम जैसे जिलों में बनाये गये आइटीआइ भवनों की भी स्थिति बहुत अच्छी नहीं है. चार साल से 30 आइटीआइ के अधिकांश भवन बन कर तैयार हैं, इसके बाद भी अब तक आइटीआइ की पढ़ाई शुरू नहीं हो पायी है.

जिन 30 आइटीआइ भवनों का निर्माण किया गया वे पूर्वी सिंहभूम में बहरागोड़ा, घाटशिला और पटमदा, लोहरदगा में कुडू, गुमला में घाघरा, हजारीबाग में बरही और चुरचू, बोकारो में चंदनक्यारी, धनबाद में गोविंदपुर और बाघमारा, गिरिडीह में डुमरी और बगोदर, दुमका में जरमुंडी और सरैयाहाट, जामताड़ा में विधासागर, गोड्डा में सुंदर पहाड़ी, पलामू में हुसैनाबाद, छतरपुर, सतबरवा, लातेहार में महुआटांड और चंदवा, गढ़वा में झगडाटांड और भंडरिया, चतरा में सिमरिया में हैं. पांच आइटीआइ युवतियों के लिए बनाये गये हैं जो खूंटी, लोहरदगा, गुमला, सिमडेगा, गिरिडीह, गोड्डा में हैं.

Advt

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button