न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सुरक्षित मानव जीवन के लिए वृक्षों और महिलाओं को संरक्षण–सम्मान देना जरूरी : महेश पोद्दार

-सांसद ने महिलौंग में किया बाजार शेड का शिलान्यास, पौधा भी लगाया -महिलाएं करेंगी बाजार शेड में कारोबार, होंगी खुदमुख्तार

479

Ranchi : राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार ने कहा है कि वृक्ष धरती के समस्त जीवों को जीवन और पोषण देते हैं. समाज और परिवार में यही महती जिम्मेदारी महिलाएं उठाती हैं. मानवमात्र को यदि सुखी, सुरक्षित और समृद्ध जीवन चाहिए, तो उसे पेड़ों और महिलाओं का आदर करना चाहिए, उन्हें संरक्षण और समर्थन देना चाहिए. सांसद पोद्दार ने आज अपने सांसद आदर्श ग्राम ‘महिलौंग’ में रांची– पुरूलिया रोड के किनारे स्थित तालाब के पास बाजार शेड का शिलान्यास किया और राज्यव्यापी नदी महोत्सव सह वृहत वृक्षारोपण कार्यक्रम के तहत पौधारोपण किया. खिजरी के विधायक रामकुमार पाहन भी इस कार्यक्रम में शामिल थे.

इसे भी पढ़ें- मनरेगा : बकरी और मुर्गी का भी हक मार गये अधिकारी और बिचौलिये, डकार गये पौने तीन लाख रुपये

महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाएं फल, सब्जी, दूध, अंडे बेचेंगी यहां

महेश पोद्दार ने बताया कि काफी दिनों से वह उक्त स्थल पर बाजार शेड निर्माण के लिए प्रयासरत थे. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने उनके आग्रह पर इस बाजार शेड की योजना को मंजूरी दी और अब भवन निर्माण विभाग इसका निर्माण करा रहा है. उन्होंने बताया कि इस बाजार शेड में महिलौंग की महिला स्वयं सहायता समूह की सदस्य महिलाएं फल, सब्जी, दूध, मशरूम, अंडे इत्यादि का कारोबार करेंगी और आत्मनिर्भर होंगी. उन्होंने कहा कि इस बाजार शेड के लिए उन्होंने प्रशासनिक स्तर पर पहल भले ही की, लेकिन इस योजना का फलीभूत होना महिलौंग की महिलाओं की अपने पैर पर खड़े होने की जिद के कारण ही संभव हो सका है. महिलौंग की महिलाएं पहले से ‘दीदी कैफे’ नाम का कैफेटेरिया चलाने के अलावा मशरूम उत्पादन, किचेन गार्डन, कृषि उपकरण बैंक आदि व्यावसायिक गतिविधियों से जुड़ी हुई हैं.

इसे भी पढ़ें- रांचीः राजधानी की सड़कों पर दौड़ते हैंं ओवरलोडेड ऑटो हादसों को दे रहे खुला आमंत्रण

होरहाप जंगल में ओपन सफारी का दिया है प्रस्ताव

पोद्दार ने बताया कि महिलौंग के लोग वृक्षों से प्रेम करते हैं और सामूहिक रूप से जंगल की रक्षा करते हैं. राजधानी के इतना करीब होने के बावजूद महिलौंग पंचायत के होरहाप में घने जंगल का सुरक्षित वजूद यह प्रमाणित करता है. उन्होंने कहा कि होरहाप जंगल में उन्होंने ओपन सफारी का प्रस्ताव दिया है और उम्मीद है कि जल्दी ही इस महात्वाकांक्षी योजना को भी अमली जामा पहनाया जा सकेगा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: