न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

इस्लामिक संगठन ने ली श्रीलंका सीरियल ब्लास्ट की जिम्मेदारी, 310 लोगों की हुई हत्या

जिहादियों की गतिविधियों पर नजर रखने वाली एक खुफिया वेबसाइट के मुताबिक इस्लामिक स्टेट ने श्रीलंका धमाकों की जिम्मेदारी ली.

700

Columbo: रविवार को श्रीलंका में एक के बाद एक हुए आठ सीरियल ब्लास्ट की जिम्मेवारी आतंकी संगठन इस्लामिक इस्टेट (आईएस) ने ली है.

mi banner add

रॉयटर्स ने अमाक न्यूज एजेंसी के हवाले से इस खबर की पुष्टि की. वहीं जिहादियों की गतिविधियों पर नजर रखने वाली एक खुफिया वेबसाइट के मुताबिक इस्लामिक स्टेट ने श्रीलंका धमाकों की जिम्मेदारी ली.

पड़ोसी मुल्क में हुए इस हमले में मृतकों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. मंगलवार को इस धमाके में मरने वालों का आंकड़ा 310 तक पहुंच गया है. रविवार को ईस्टर के मौके पर चर्च और फाइव स्टार होटल्स में हुए 8 सिलसिलेवार बम धमाकों से पूरे श्रीलंका में दहशत का माहौल है.

इसे भी पढ़ेंः तेजस्वी का तीखा तंज, कहा- क्या घोटाले करने के नाम पर मजदूरी मांग रहे हैं नीतीश

इस हमले में मारे गये विदेशी नागरिकों में सबसे ज्यादा 10 भारतीय भी शामिल हैं. मारे गये 310 में से कुल 45 विदेशियों की मौत हुई है. मरनेवालों में बड़ी तादाद बच्चों की है. यूनिसेफ प्रवक्ता के हवाले से बताया कि मारे गए लोगों में 45 बच्चे शामिल हैं.

Related Posts

पाकिस्तान : हाफिज सईद और उसके तीन सहयोगियों को कोर्ट से अंतरिम जमानत मिली

अधिकारियों के अनुसार जेयूडी 300 मदरसे और स्कूलों, अस्पतालों,एक प्रकाशन गृह और एंबुलेंस सर्विस का संचालन करता है. 

श्रीलंका में आज संसद का विशेष सत्र बुलाया गया. इस सत्र में मृतकों को श्रद्धांजलि दी गई. आज ही देश में शोक दिवस भी मनाया जा रहा है. श्रीलंका में विस्फोट में मारे गए लोगों का सामूहिक अंतिम संस्कार किया गया. कोलंबो के उत्तर में स्थित नेगोंबो के सेंट सेबेस्टियन चर्च में सामूहिक अंतिम संस्कार संपन्न हुआ.

गौरतलब है कि ईस्टर त्योहार के मौके पर श्रीलंका की राजधानी कोलंबो, कैंडी समेत कई शहर में कुल 8 धमाके हुए थे. घायलों की संख्या 500 के करीब बताई जा रही है. श्रीलंका ने इस हमले को एक बड़ी चूक माना.

वहीं सोमवार को पेट्टा के मुख्य बस स्टेशन पर सोमवार को 87 डोटेनेटर पाए गए थे, जिससे क्षेत्र में हड़कंप मच गया था. इसके अलावा हवाई अड्डे के पास भी एक जिंदा बम मिला था.

इसे भी पढ़ेंःसरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों को गैर-प्रमुख संपत्ति की लिस्ट बनाने को कहा- बेचने की है तैयारी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: