न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

क्या प्रियंका के शिवसेना ज्वाइन करने के पीछे प्रशांत किशोर का हाथ है ?

कांग्रेस के गलियारे में ये चर्चा है कि इस्तीफे के तुरंत बाद प्रियंका चतुर्वेदी की शिवसेना में इंट्री कैसे हुई?

738

New Delhi: कांग्रेस की राष्ट्रीय और मुखर प्रवक्ता रहीं प्रियंका चतुर्वेदी ने पार्टी से इस्तीफा देकर शिवसेना में शामिल हो गयी हैं. शुक्रवार को प्रियंका चतुर्वेदी के पार्टी छोड़ने और शिवसेना का दामन थामने की खबर सुर्खियों में रही.

लेकिन अब कांग्रेस के अंदरखेमें में इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि इस्तीफा देने के तुरंत बाद शिवसेना में उनकी एंट्री कैसे हुई.

जनसत्ता की खबर के अनुसार, कांग्रेस में इस बात की चर्चा है कि क्या चुनाव रणनीतिकार व जेडीयू नेता प्रशांत किशोर तो इसके पीछे नहीं हैं? पार्टी के अंदरखाने में तो इस बात की चर्चा बड़ी गर्म है कि प्रशांत किशोर ने ही प्रियंका की शिवसेना में एंट्री में हम भूमिका अदा की है.

इसे भी पढ़ेंःबागी हुए जेएमएम विधायक जयप्रकाश भाई पटेल, कहा-चुनाव में बीजेपी का करूंगा प्रचार

शिवसेना छवि बदलने की जुगत में ?

सियासी गलियारे में तो ये भी खबर है कि अगले साल प्रियंका को शिवसेना राज्य सभा से संसद भेज सकती है. और शिवसेना ने इसे लेकर प्रियंका चतुर्वेदी से वादा भी किया है.

कांग्रेस नेताओं का मानना है कि शिवसेना राष्ट्रीय स्तर के साथ ही महाराष्ट्र में भी अपनी छवि को बदलना चाहती है. और इसके लिए एक शिष्ट और मुखर मीडिया के चेहरे की तलाश थी. पार्टी की छवि को बदलने की रणनीति का हिस्सा है.

ये बड़ा वैचारिक परिवर्तन- उमर अब्दुला

कांग्रेस की पूर्व प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी के शिवसेना में शामिल होने पर नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने शुक्रवार को कहा कि ये बड़ा वैचारिक परिवर्तन है.

उमर अब्दुला ने ट्वीट किया, ‘‘केन्द्र के बाएं से अति दक्षिण तक, यह बड़ा वैचारिक परिवर्तन है. निजी रूप से मैं कम से कम उन्हें किसी अन्य पार्टी का प्रतिनिधित्व करते हुए देखना चाहता था लेकिन प्रियंका चतुर्वेदी को शुभकामनाएं.’’

इसे भी पढ़ेंः3.10 लाख करोड़ के हुए 210 एमओयू, फिर भी नहीं लग रहा उद्योग

नाराज चल रही थीं प्रियंका

माना जा रहा है कि प्रियंका चतुर्वेदी पार्टी से उस समय से नाराज चल रही थीं, जब पार्टी ने उन्हें लोकसभा का टिकट देने से इनकार कर दिया था. प्रियंका मुंबई में किसी सीट से कांग्रेस का टिकट मांग रही थीं. हालांकि, प्रियंका चतुर्वेदी ने इस बात से पूरी तरह से इनकार किया है.

प्रियंका का कहना था कि वह कभी टिकट को लेकर पार्टी से नाराज नहीं थीं. उनके लिए यह कोई मुद्दा ही नहीं था. उल्लेखनीय है कि प्रियंका बीते दिनों से पार्टी में अपनी उपेक्षा और कुछ नेताओं के द्वारा उनसे कथित रूप से बदसलूकी को लेकर नाराज चल रही थीं.

इसे भी पढ़ेंः रघुवर ने कहा-जेएमएम ने रोका है आदिवासियों का विकास, जवाब मिला “गजनी हैं आप”

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: