न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सिग्नेचर ब्रिज से जुड़े हैं केजरीवाल पर हमले के तार?

107

New Delhi : मंगलवार की दोपहर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमले से सनसनी फैल गयी. यह हमला उस वक्त हुआ, जब वह दिल्ली सचिवालय में अपने चैंबर से निकले. सामने से हमलावर सीधे उनकी तरफ आया. झुककर पांव छूने का दिखावा करते हुए अचानक उसने मुख्यमंत्री केजरीवाल का चश्मा खींचकर उनकी आंख में मिर्च डालने का प्रयास किया, लेकिन वहां मौजूद सीएम के निजी सचिव व अन्य साथियों ने हमलावर को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया. हमलावर की पहचान दिल्ली निवासी अनिल कुमार शर्मा के रूप में की गयी है. उसने यह हमला क्यों किया और उसके तार किन लोगों से जुड़े हैं, इसका खुलासा होना बाकी है. लेकिन, सोशल मीडिया में उसकी फेसबुक प्रोफाइल वायरल हो चुकी है. इसमें उसने भाजपा और मोदी के पक्ष में लगातार लिखते हुए हर पोस्ट में बीजेपी जिंदाबाद लिखा है.

चार नवंबर को फेसबुक पोस्ट में केजरीवाल को बर्बाद करने की दी थी धमकी

चौंकानेवाली बात यह है कि चार नवंबर की शाम सवा छह बजे उसने अपने फेसबुक पोस्ट में अपशब्दों का उपयोग करते हुए अरविंद केजरीवाल तथा आम आदमी पार्टी को बर्बाद करने की धमकी दी है. इसके साथ उसने सिग्नेचर ब्रिज के उद्घाटन की खबर और फोटो भी डाली है. इस फोटो में अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया को सिग्नेचर ब्रिज का उद्घाटन करते हुए दिखाया गया है. इस दौरान भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने मंच पर चढ़ने की कोशिश की थी. इस क्रम में आप विधायक अमानतुल्लाह द्वारा मनोज तिवारी को मंच से धकेलने, मनोज तिवारी द्वारा पुलिस अफसरों से हाथापाई के वीडियो भी वायरल हुए थे. मनोज तिवारी के साथ आयी भीड़ द्वारा केजरीवाल के भाषण के दौरान उनकी ओर पानी की बोतलें भी फेंकी गयीं. एक तरफ यह हंगामा हो रहा था, ठीक उसी दौरान सवा छह बजे अनिल शर्मा द्वारा फेसबुक पर खुलेआम केजरीवाल के लिए गालियों का उपयोग करते हुए धमकी के खास मायने लगाये जा रहे हैं. समझा जाता है कि इस मामले को लेकर भाजपा और आम आदमी पार्टी के बीच जंग तेज होगी. आप आदमी पार्टी लगातार पूछती रही है कि सिग्नेचर ब्रिज से भाजपा को इतनी जलन क्यों है? अब इस हमले से यह सिलसिला तेज हो गया है.

hosp3

इसे भी पढ़ें- दिल्ली: सचिवालय में सीएम की सुरक्षा में ‘सेंध’, केजरीवाल पर फेंका मिर्च पाउडर

इसे भी पढ़ें- सीबीआई प्रकरणः जानें देश के कौन-कौन सबसे प्रभावशाली लोगों की भूमिका है संदिग्ध

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: