DumkaJharkhand

दुमका के लाइफलाइन भुरभुरी पुल और विजयपुर पुल निर्माण में गड़बड़ी, सीएम कराएं उच्च स्तरीय जांच: लुईस मरांडी

Ranchi: पूर्व मंत्री लुईस मरांडी ने दुमका के भुरभुरी और विजयपुर पुल के निर्माण में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए इसकी उच्चस्तरीय जांच की मांग की है. उन्होंने कहा कि पुल निर्माण में गड़बड़ी के चलते लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

इस संदर्भ में मरांडी ने सीएम हेमंत सोरेन का ध्यान आकृष्ट कराया है. साथ ही मुख्य सचिव को भी इस मामले में एक्शन लेने की अपील की है.

दोनों को लिखे पत्र में कहा है कि पुल निर्माण की उच्च स्तरीय जांच हो. इसमें टेक्निकल एक्सपर्ट को शामिल किया जाये. लोगों की जरूरतों को देखते हुए इसका पुननिर्माण कराया जाये.

इसे भी पढ़ें :ऑनर किलिंग के चार दोषियों को फांसी की सजा, कत्ल में शामिल थे परिवार के चार लोग

बिहार-झारखंड के बीच लाइफलाइन

लुईस मरांडी के मुताबिक, दुमका से भागलपुर (बिहार) के लिए भुरभुरी पुल अत्यंत महत्वपूर्ण लाइफलाइन है. दो महीने पहले इस पुल को मरम्मति के बाद फिर से खोला गया.

बगैर पुल की स्थिति, मजबूती को परखे और प्राक्कलन के बिना ही नियमों को ताक पर रखकर इसे फिर से पथ निर्माण विभाग ने खोल दिया. 10 महीने के भीतर ही जैसे जैसे आधा अधूरा काम करके लोगों के लिए खोल दिया गया.

दुमका गोविंदपुर स्थित विजयपुर पुल की भी तकरीबन यही स्थिति रही. मरम्मति के दौरान भारी वाहनों का परिचालन बंद रखे जाने में लापरवाही बरती गयी. 3 महीने तक पुल को बंद रखकर दुरुस्त किया गया.

दोनों पुलों के निर्माण के दौरान लोगों के लिए डायवर्सन का या वैकल्पिक मार्ग का इंतजाम नहीं किया गया. जब पुलों पर परिचालन शुरू भी करा दिया गया तो 3 महीने के भीतर भुरभुरी पुल को फिर से डैमेज बताकर यात्रियों और पैसेंजरों के लिए इसे बंद कर दिया गया.

पैसे की लूट

भुरभुरी पुल और विजयपुर पुल के निर्माण में विभाग और संवेदक की मिलीभगत है. पथ निर्माण विभाग के द्वारा जारी पैसों की बंदरबांट हुई है.

पुल निर्माण में लगते समय और भ्रष्टाचार के कारण दुमका के लोगों के सामने बेशुमार परेशानियां खड़ी हो गयी हैं. सरकार इन दोनों महत्वपूर्ण पुलों की एक उच्चस्तरीय तकनीकी विशेषज्ञों की कमेटी द्वारा जांच कराये. ढंग से पुलों का मरम्मतीकरण कराया जाए.

इसे भी पढ़ें :TMC नेता शेख आलम ने सभा में कहा, 30 फीसदी मुसलमान अगर साथ आये तो 4 पाकिस्तान बन जायेंगे

Related Articles

Back to top button