NEWS

CHAKRADHARPUR : नए जेल भवन निर्माण कार्य में संवेदक द्वारा बरती जा रही अनियमितता, पूर्व विधायक जांच करने पहुंचे

CHAKRADHARPUR : चक्रधरपुर के बड़ोदा गांव में करोड़ों रुपए की लागत से बन रहे जेल भवन का निर्माण में संवेदक द्वारा अनियमितता बरतने की शिकायत मिलने के बाद शुक्रवार को पूर्व विधायक शशिभूषण सामाड भवन की जांच करने पहुंचे. जांच में उन्होंने पाया कि जोड़ाई और ढ़लाई कार्य में सीमेंट के साथ ब्लैक डस्ट मिलाए जा रहे हैं. उन्होंने ढ़लाई कार्य के लिए मिलावट किए गए सामग्री में भी गड़बड़ पाया. इसी तरह जेल भवन निर्माण में स्थानीय ईंट छोड़ रामगढ़ की ईंटों को उपयोग में लाते देख भड़क उठे. उन्होंने कहा कि सरकार जेल निर्माण में करोड़ों रुपए खर्च कर रही है, ताकि गुणवत्ता वाले जेल भवन बने लेकिन यहां जिस तरह से निमार्ण कार्य हो रहे हैं और गुणवत्ता देखने को मिल रहे हैं उससे यह भवन शुरु होने से पहले टूटने लगेगा. पिछले छह सालों से जेल भवन का निर्माण हो रहा है. पहले से बने भवन टूटने लगे हैं, दीवारें फटने लगीं है. (नीचे भी पढ़ें) 

कार्यस्थल से भवन निर्माण विभाग को किया फोन तो नहीं उठाया फोन

पूर्व विधायक शशि भूषण सामाड ने बड़ोदा में निर्माणाधीन जेल भवन जांच पड़ताल करने के बाद भवन निर्माण भवन चाईबासा के कार्यपालक अभियंता के मोबाइल नंबर 9431141170 पर फोन किया पर कार्यपालक अभियंता साहब ने ना तो फोन उठाया और ना ही वापस फोन किया.

ram janam hospital
Catalyst IAS

Related Articles

Back to top button