JharkhandRanchi

इरफान बोले, तबरेज की हत्या बीजेपी व आरएसएस ने करायी, हुआ बवाल, अध्यक्ष के कहने पर भी नहीं मांगी माफी

Ranchi: विशेष सत्र के अंतिम दिन की शुरुआत राज्यपाल के धन्यवाद प्रस्ताव को लेकर किया जाना था. लोबिन हेंब्रम धन्यवाद प्रस्ताव लेकर आये. जिसका समर्थन इरफान अंसारी ने किया.

लोबिन हेंब्रम ने सबसे पहले सीएनटी-एसपीटी को मजबूती से पालन कराने को लेकर सरकार के दृढ़ संकल्प के बारे में बताया. उन्होंने कहा कि सीएनटी-एसपीटी के बावजूद गरीबों और आदिवासियों की जमीन कौड़ी के भाव बिक रही है, इस पर न तो डीसी का, न ही कमिशनर का ध्यान गया.

इसी के बाद प्रस्ताव के समर्थन में बोलते हुए इरफान अंसारी ने कहा कि सिर्फ अखबारों के माध्यम से आरोप लगाये गये हैं, मैं रघुवर सरकार के एक-एक विभाग की जांच कराऊंगा और दोषियों को जेल भी भेजूंगा.

देखें वीडियो

इसके आगे बोलते हुए उन्होंने कह दिया कि तबरेज अंसारी की हत्या आरएसएस और भाजपा के लोगों ने करायी है. जिसके बाद भाजपा के सदस्यों ने हंगामा शुरू कर दिया और वेल में आकर इरफान अंसारी माफी मांगों और इरफान अंसारी हाय-हाय जैसे नारे लगाने लगे.

इसके बाद भी इरफान यह बोले की इरफान अंसारी किसी भी कीमत पर मांगी नहीं मांगेगा, पर बाद में उन्होंने जरूर कहा कि कोई एक भाजपा या आरएसएस का सदस्य अगर हत्या करता है तो पूरा आरएसएस और भाजपा हत्यारी नहीं हो सकती.

इसे भी पढ़ें – हेमंत सरकार के सामने अवसर भी है और चुनौतियां भी

घोड़ा नाल ठोकवाये तो समझ आता है, बेंगो उछल-उछल के कह रहा है कि हम नाल ठोकवायेंगेः सीपी सिंह

इरफान अंसारी ने अपने समर्थन में बोलते हुए कहा कि हम सरकार के एक-एक विभाग की जांच करायेंगे और दोषियों को जेल भी भेजेंगे. इस पर हजारीबाग विधायक मनीष जायसवाल ने आपत्ति जताते हुए कहा कि अगर सीएम नहीं बोलेंगे तो हम समझेंगे की सरकार कांग्रेस के कंट्रोल में है.

जिसके बाद फिर इरफान ने अपनी बात दोहरायी जिसके बाद कहा कि सीएम को पूरा हक है कि जांच करा सकतें हैं पर कांग्रेस के इरफान अंसारी जांच की बात कैसे कर सकते हैं. इस पर सीपी सिंह ने तंज कसते हुए कहा कि घोड़ा नाल ठोकवाये तो समझ आता है बेंगो उछल-उछल के कहेगा कि हम नाल ठोकवायेंगे.

इसे भी पढ़ें –  ग्रामीण बंद और #Trade_Unions_Strike से राज्य को लगभग सौ करोड़ का नुकसान, बंद रहे कई कोल ब्लॉक

हमारी सरकार व्यक्तिगत निर्माण आधारित विकास पर काम करेगीः हेमंत सोरेन

राज्यपाल के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव पर सरकार का जवाब देते हुए कहा कि रघुवर दास की सरकार सुननेवाली सरकार नहीं थी. हम कहते रहे कि संख्याबल के आधार पर बातों को नहीं दबाया जाना चाहिए. पर हमारी सरकार सुननेवाली सरकार होगी. हमारी सरकार व्यक्तिगत निर्माण आधारित विकास पर काम करेगी. हमारा विकास विज्ञापन में दिखनेवाला विकास नहीं होगा. गरीब के चेहरे और चूल्हों में दिखनेवाला विकास होगा.

वहीं माले विधायक विनोद सिंह ने कहा कि रघुवर दास की सरकार ने विरोध के सभी स्वर को देशद्रोही करार दे दिया. खूंटी का मामला हो, फेसबुक पर विरोध करना हो, चाहे कोई भी आंदोलन हो सरकार ने दबाने का काम किया. सभी को देशद्रोही करार दे दिया.

इसे भी पढ़ें – राज्य में लंबित हैं #Mutation के 34793 आवेदन, हजारीबाग के हैं 5202 मामले

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close