न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कल से देखने को मिलेगा आईपीएल का रोमांच, उसके बाद क्रिकेट का महासमर

आईपीएल की परीक्षा लेकिन विश्व ट्रॉफी पर खिलाड़ियों की नजर

936

New Delhi: जसप्रीत बुमराह के यॉर्कर के खिलाफ महेंद्र सिंह धोनी की रणनीति, कुलदीप यादव की गुगली गेंदों से निपटने के लिये विराट कोहली की योजना और स्टीव स्मिथ की अपना फुटवर्क दिखाने की बेताबी तथा इससे भी कुछ ज्यादा 12वीं इंडियन प्रीमियर लीग में देखने को मिलेगा.

IPL का रोमांच, लेकिन वर्ल्ड कप पर ध्यान

इस सालाना क्रिकेट लीग में हर चरण की तरह कुछ नये नायक देखने को मिलेंगे, जिन पर भारतीय क्रिकेट आलोचक दो महीने तक चर्चा करेंगे. लेकिन लीग का चरण कुछ विशेष रहेगा क्योंकि 12 मई को होने वाले फाइनल के ढाई हफ्ते बाद वनडे विश्व कप शुरू हो जायेगा.

hosp3

2011 और 2015 विश्व कप का आयोजन आईपीएल से पहले किया गया था और यह पहली बार है जब यह महासमर आईपीएल के बाद खेला जा रहा है. कप्तान विराट कोहली विश्व कप टीम के सभी दावेदारों के लिये कार्यभार प्रबंधन की बात पर जोर दे रहे हैं, जिससे यह आईपीएल दिलचस्प हो जायेगा.

एक तरफ खिलाड़ियों को अपनी फ्रेंइचाजी टीमों की उम्मीदों पर खरा उतरने की जरूरत होगी, जो उन्हें लाखों रूपये का भुगतान कर रहे हैं. और वहीं दूसरी ओर देश के प्रति प्रतिबद्धता होगी जिसमें ‘भारतीय टीम’ से ट्रॉफी से कम की उम्मीद नहीं है.

खिताब पर होगी हर टीम की नजर

यह 12वां चरण होगा और सभी खिलाड़ियों के लिये इसकी अहमियत अलग-अलग रही है. धोनी के लिये चेन्नई सुपर किंग्स परिवार की तरह है. उन्होंने आईपीएल में एक अलग तरह की विरासत तैयार की है, जिसमें उनकी टीम ने तीन खिताब हासिल किये हैं और अब टीम इसका बचाव करेगी.

विराट कोहली को बल्लेबाज के तौर पर कुछ साबित नहीं करना है. लेकिन आठ वर्षों तक रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर की कप्तानी करना और टीम को एक भी खिताब नहीं दिलवा पाना, उन्हें कांटे की तरह चुभता होगा.

केकेआर के पूर्व कप्तान गौतम गंभीर की कोहली की आईपीएल कप्तानी पर की गयी टिप्पणी पर भी सभी का ध्यान गया होगा. कोहली भी इसे बदलना चाहेंगे, भले ही उनके दिमाग में 90 प्रतिशत चीजें विश्व कप के बारे में चल रही होंगी.

रोहित शर्मा उस फ्रेंचाइजी टीम की अगुवाई करते हैं जिसकी आठ टीमों में सबसे ज्यादा मांग है, जिससे टीम के मालिकों की उम्मीद उसके फाइनल में पहुंचने या फिर ट्रॉफी जीतने की होगी.

मुंबई इंडियंस तीन आईपीएल खिताब जीत चुके हैं, लेकिन उन पर चौथे खिताब का दबाव होगा, साथ ही उन्हें हार्दिंक पंड्या और जसप्रीत बुमराह के कार्यभार पर भी निगाह लगानी होगी.

स्टीव स्मिथ भी प्रतिबंध के बाद वापसी को तैयार हैं और उनके साथ बेन स्टोक्स और जोस बटलर भी मौजूद होंगे. जिससे राजस्थान रायल्स प्ले आफ में जगह बनाने की गंभीर दावेदारों में शुमार होगी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: