BusinessNational

#INXMediaCase:  कोर्ट का पी चिदंबरम को न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश, 19 सितंबर तक रहेंगे तिहाड़ में

NewDelhi : INX media case में गिरफ्तार  पूर्व वित्त मंत्री कांग्रेस नेता पी.चिदंबरम को 19 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया है. खबर है कि दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने गुरुवार को आईएनएक्स मीडिया मामले में मंत्री पी चिदंबरम को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया. कोर्ट के आदेश के बाद चिदंबरम को तिहाड़ जेल भेजा जायेगा.

स्पेशल जज अजय कुमार कुहाड़ ने चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल की दलील खारिज कर दी कि उनके मुवक्किल चिदंबरम को न्यायिक हिरासत में नहीं भेजा जाना चाहिए. इससे पूर्व सीबीआई ने उन्हें न्यायिक हिरासत में भेजने की मांग की. हालांकि चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने इसका विरोध किया.

advt

SC ने चिदंबरम की अग्रिम जमानत की अर्जी खारिज कर दी

इससे पहले दिन में SC ने चिदंबरम की प्रवर्तन निदेशालय(ईडी) की गिरफ्तारी से अग्रिम जमानत की अर्जी खारिज कर दी.  चिदंबरम की याचिका खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आमतौर पर आर्थिक अपराधों में अग्रिम जमानत नहीं दी जाती.  तथ्यों और परिस्थितियों पर ध्यान रखते हुए यह केस अग्रिम जमानत के लिए उपयुक्त नहीं है.

चिदंबरम को सीबीआई द्वार राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किये जाने के वाद  कपिल सिब्बल ने कोर्ट से कहा कि पी चिदंबरम ईडी के सामने सरेंडर के लिए तैयार हैं. इस क्रम में  सिब्बल ने कोर्ट से कहा कि उनके मुवक्किल को न्यायिक हिरासत में नहीं भेजा जाना चाहिए.  सिब्बल ने कोर्ट से कहा कि जहां तक सीबीआई की बात है तो पी चिदंबरम को न्यायिक हिरासत में क्यों भेजा जाना चाहिए? सीबीआई ने सभी सवाल पूछ लिये हैं.  कपिल सिब्बल ने कहा कि  मैं ईडी की कस्टडी में जाना चाहता हूं.  मुझे न्यायिक हिरासत में नहीं भेजा जाना चाहिए.

पी.चिदंबरम 15 दिन सीबीआई हिरासत में काट चुके हैं

बता दें कि अब तक पी.चिदंबरम 15 दिन सीबीआई हिरासत में काट चुके हैं. SC ने  कहा कि जांच एजेंसी को उनके खिलाफ इन्वेस्टिगेशन के लिए पूरी स्वतंत्रता दी जानी चाहिए.  इस स्टेज पर अग्रिम जमानत दिये  जाने से केस प्रभावित होगा.  चिदंबरम को 21 अगस्त को हुई उनकी गिरफ्तारी के बाद से पांच बार में 15 दिन की सीबीआई हिरासत में रखा गया था.

तिहाड़ प्रशासन के सीनियर अधिकारियों के अनुसार  चिदंबरम तिहाड़ आयेंगे तो उन्हें आम कैदी की तरह ही जेल में रखा जायेगा. तिहाड़ जेल प्रशासन कोर्ट आर्डर का इंतजार कर रहा है, जिसके बाद तय होगा कि उन्हें तिहाड़ जेल के किस वार्ड में रखा जायेगा. बताया जा रहा है कि उन्हें 7 नंबर जेल में रखा जाएगा. इस जेल में आर्थिक अपराध से जुड़े लोगों को रखा जाता है, चिदंबरम के बेटे कार्ति को भी जेल नंबर 7 में रखा गया था.

इसे भी पढ़ें : #AircelMaxisDeal :  पी चिदंबरम को राहत, ईडी और सीबीआई केस में दिल्ली कोर्ट से मिली अग्रिम जमानत
Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: