Jamtara

दलित परिवार पर अत्याचार मामले में जांच कमेटी ने सौंपी रिपोर्ट, जांच कमेटी की रिपोर्ट पर कार्रवाई की अनुशंसा

Jamtara : दलित परिवार के धरना प्रदर्शन को लेकर एसडीओ की जांच रिपोर्ट पर कार्रवाई शुरू कर दी गयी है. नारायणपुर थाना प्रभारी को स्पष्टीकरण करते हुए निलंबित करने का आदेश भी जारी किया गया है. साथ ही पीड़ित परिवार द्वारा दिये आवेदन को लेकर दबंगों पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है.

डीसी फैज अक अहमद मुमताज ने प्रेस वार्ता कर जानकारी दी कि नारायनपुर के चिरुडीह गांव के दलित परिवार की जमीन जो पूर्व में म्युटेशन किया गया था, उसे रद्द कर दिया जा रहा है. साथ ही जांच रिपोर्ट पर ये बात सामने आई है कि नारायणपुर थाना प्रभारी दयाशंकर रॉय द्वारा ससमय मामले को गंभीरता से नहीं लिया गया. इस कारण एसपी को थाना प्रभारी पर स्पष्टीकरण करते हुए लाइन हाजिर करने का निर्देश दिया है. उपायुक्त ने बताया कि दलित परिवार द्वारा दिये आवेदनों पर भी उचित कार्रवाई की जायेगी.

बता दें कि पिछले दस दिनों से चिरुडीह के दलित परिवार जमीन से बेदखल होने के बाद से धरने पर बैठा हुआ है.
इस मामले को लेकर भाजपा बीजेपी ने भी गंभीरता दिखाई थी. दुमका संसद सुनील सोरेन, गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे, बाबूलाल मरांडी, अमर बाउरी,नबीन जायसवाल से लेकर अन्य कई नेताओं ने पीड़ित परिवार के लिए न्याय की मांग की थी. वहीं रविवार को भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश मंत्री कमलेश राम ने पीड़ित परिवार से मुलाकात की. जहां उन्होंने राज्य की हेमंत सरकार पर मामले को लेकर निशाना साधा. मौके पर जिला अध्यक्ष सोमनाथ सिंह, कमलेश कुमार, धनंजय महतो, महावीर महतो सहित कई भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: