JharkhandLead NewsRanchi

स्कूली बच्चों की ओवरलोडिंग के खिलाफ चला जांच अभियान, ऑटो चालकों और स्कूल वैन चालकों को फाइन

Ranchi : जिला परिवहन पदाधिकारी रांची प्रवीण कुमार प्रकाश द्वारा ऑटो और स्कूल वैन में स्कूली बच्चों की ओवरलोडिंग की जांच की गयी. जांच के क्रम में पाया गया कि ऑटो चालकों एवं स्कूल वैन चालकों द्वारा वाहन में स्कूली बच्चों की ओवरलोडिंग की जा रही है. क्षमता से अधिक बच्चों को बैठाने वाले ऑटो और स्कूल वैन का फाइन काटा गया और ऐसे वाहनों के परमिट रद्द करने के लिए अग्रेतर कार्रवाई की गई है.

बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ करने पर होगी कड़ी कार्रवाई

जिला परिवहन पदाधिकारी, रांची प्रवीण कुमार प्रकाश ने कहा कि क्षमता से अधिक बच्चों को वाहन में बैठाने पर पकड़े जाने पर मोटर वाहन अधिनियम 1988 के तहत वाहन जब्त करते हुए जुर्माना वसूला जायेगा. साथ ही वाहन परमिट निरस्त करने की कार्रवाई भी की जायेगी. उन्होंने बताया कि क्षमता से अधिक स्कूली बच्चों को वाहन में बैठाने पर वाहन मालिकों के परमिट रद्दीकरण व आवश्यक कार्रवाई के लिए सचिव, क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकार, रांची को भेजा जा रहा है. डीटीओ ने ऑटो चालकों, वाहन स्वामियों को हिदायत देते हुए कहा कि वे अपने वाहनों में क्षमता से अधिक व्यक्तियों को ना बैठायें.

स्कूल बसों में बच्चों की ओवरलोडिंग न हो: डीटीओ

जिला परिवहन पदाधिकारी, रांची प्रवीण कुमार प्रकाश ने बताया कि जांच के क्रम में पाया गया है कि स्कूली बच्चे स्कूल यूनिफार्म में बिना लाइसेंस, हेलमेट और ट्रिपल राइडिंग करते हुए पाये गये हैं. जिला अन्तर्गत संचालित सभी स्कूल प्रबंधन को डीटीओ द्वारा निर्देश दिया गया है कि वे अपने स्कूली बसों में बच्चों की ओवरलोडिंग न करें एवं जो भी स्कूली बच्चे अपने वाहन से विद्यालय आते हैं उनके पास हेलमेट एवं ड्राइविंग लाइसेंस अनिवार्य रूप से हो यह सुनिश्चित करें. साथ ही सभी अभिभावकों से अनुरोध है कि वे अपने बच्चों को ओवरलोडिंग करने वाले वाहनों से विद्यालय न भेजें ताकि बच्चों के जान-माल की सुरक्षा की जा सके.

इसे भी पढ़ें – 27 जनवरी को रांची में इंडिया-न्यूजीलैंड के बीच T-20 मैच

Related Articles

Back to top button