न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भारत को बनाया जायेगा अंतरराष्ट्रीय फिल्म शूटिंग हबः अमित खरे

251
  • देश में छोटे राज्यों में फिल्म निर्माण की गतिविधि शुरू
  • कान फिल्म फेस्टिवल 2019 में सूचना व प्रसारण सचिव ने लिया हिस्सा

New Delhi: सूचना एवं प्रसारण सचिव अमित खऱे ने दुनिया भर के फिल्म निर्माताओं को भारत में फिल्म निर्माण करने का न्योता दिया है. अमित खरे भारतीय प्रतिनिधिमंडल के साथ प्रतिष्ठित कान फिल्म फेस्टिवल में हिस्सा लेने के लिए फ्रांस दौरे पर हैं. उन्होंने फेस्टिवल में भारतीय पैवेलियन का उद्घाटन किया. इस मौके पर भारत में फिल्म निर्माण की संभावनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी गयी. अमित खरे ने बताया कि भारत में कुशल पेशेवर, तकनीशियनों की कोई कमी नहीं है. यहां फिल्मों की शुटिंग को आसान बनाने के लिए फिल्म निर्माण कार्यालय स्थापित किया गया है. यह कार्यालय फिल्म निर्माताओं के लिए सिंगल विंडो क्लीयरेंस की सुविधा देता है. उन्होंने फिल्म इको सिस्टम सहित अन्य पहलुओं के बारे फिल्मकारों को जानकारी दी. श्री खरे ने बताया कि   सरकार द्वारा छूट और प्रोत्साहन की भी व्यवस्था है. वहीं पोस्ट प्रोडक्शन के क्षेत्र में यहां असीम संभावनाएं हैं.

इसे भी पढ़ें – सीएम ने फिर किया दावाः एक लाख को दे चुके हैं नौकरी, एक महीने में और 50 हजार शिक्षकों को करेंगे नियुक्त

झारखंड में तेजी से हो रहा काम

Related Posts

धनबाद : हाजरा क्लिनिक में प्रसूता के ऑपरेशन के दौरान नवजात के हुए दो टुकड़े

परिजनों ने किया हंगामा, बैंक मोड़ थाने में शिकायत, छानबीन में जुटी पुलिस

SMILE

अमित खरे ने कहा कि हिंदी सिनेमा के अलावे भारत में क्षेत्रीय सिनेमा भी खूब प्रगति कर रहा है. महानगरों के अलावे झारखंड और उत्तरपूर्व के छोटे राज्यों में फिल्म निर्माण की दिशा में तेजी से काम हो रहा है. इन क्षेत्रों में भी टैलेंट की कोई कमी नहीं हैं, खुबसूरत लोकेशन हैं, जिसका फायदा क्षेत्रीय फिल्मों का हो रहा है. यह क्षेत्र नये शूटिंग डेस्टिनेशन बनने की क्षमता रखते हैं. कान फिल्म फेस्टिवल में शामिल इजरायली प्रतिनिधिमंडल ने भारत में क्षेत्रीय और कम बजट की फिल्म निर्माण की दिशा में काम करने का भरोसा दिलाया. इजरायल ने साल 2020 में होने बाले येरुशलम फिल्म फेस्टिवल में भारत को फोकस कंट्री बनाने का फैसला किया है. फेस्टिवल के दौरान सूचना एंव प्रसारण सचिव अमित खरे ने इजरायल, फ्रांस, ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका समेत कई देशों के प्रतिनिधियों के साथ चर्चा की. उन्होंने विभिन्न देशों के फिल्म निर्माताओं से भारत में फिल्म निर्माण से जुड़ी जानकारियों को साझा किया. जिससे भारत को अंतरराष्ट्रीय फिल्मों की शूटिंग का हब बनाने में मदद मिलेगी. उन्होंने विदेशी प्रतिनिधिमंडल के साथ रचनात्मक सहयोग के अवसर और सांस्कृतिक आदान-प्रदान पर जोर दिया.

इसे भी पढ़ें – अंतिम चरण: 45 लाख 64 हजार मतदाता करेंगे प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: