न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कांके वेटनरी कॉलेज के पास 25 एकड़ जमीन पर बनेगा इंटर स्टेट बस टर्मिनल

गुरूवार से बस टर्मिनल के लिए शुरू होगी मापी

684

Ranchi : रांची का अत्याधुनिक नया इंटर स्टेट बस टर्मिनल कांके के वेटनरी कॉलेज के पास बन सकता है. इस लोकेशन पर आगे काम करने के लिए आरआरडीए, जुडको और रांची जिला प्रशासन की टीम ने दौरा किया है. यहां 25 एकड़ क्षेत्र में आईएसबीटी बनाने की तैयारी जल्द शुरू की जायेगी.

इसे भी पढ़ें- यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, आंसूगैस के गोले दागे, कई कांग्रेसी घायल

गुरूवार से बस टर्मिनल के लिए शुरू होगी मापी

वेटनरी कॉलेज के पास इंटर स्टेट बस टर्मिनल के निर्माण के लिए 19 जुलाई 2018 से जमीन का सर्वे और मापी शुरू की जायेगी. यह काम कांके के अंचल अधिकारी की निगरानी में जिला प्रशासन के अमीनों के द्वारा किया जाएगा.

इसे भी पढ़ें-साबित कर सकता हूं कि सीएम ने भूमि अधिग्रहण बिल लाकर गलती की है : हेमंत

जमीन मापी के बाद तैयार किया जायेगा प्रस्ताव

जमीन की मापी पूरी हो जाने के बाद इंटर स्टेट बस टर्मिनल के लिए नया प्रस्ताव तैयार किया जायेगा. प्रस्तााव में जमीन के स्वरूप के अनुसार नया डिजाइन और अत्याधुनिक सुविधाओं की जानकारी शामिल की जाएगी.

silk_park

पहले कांके के सुकुरहुटू में बनना था इंटर स्टेट बस टर्मिनल

साल भर पहले कांके के सुकुरहुटू में इंटर स्टेसट बस टर्मिनल बनाने का प्रस्ताव था. वहां 56.81 एकड़ जमीन पर बस टर्मिनल बनना था. दावा किया जा रहा था कि वहां एयरपोर्ट जैसी सुविधाएं मिलेंगी. इसके लिए 102 करोड़ रूपये खर्च किया जाना था. डीआईएमटीएस कंपनी ने बस टर्मिनल के लिए डीपीआर तैयार किया था. इस पर रांची नगर निगम ने कई सवाल खड़े किए थे और इसके निर्माण से जुड़ी प्रक्रिया लटकती चली गई.

इसे भी पढ़ें – पहले तो फर्जी कंपनी बना ठग ली रकम, जेल से निकलते ही फिर बना ली नयी कंपनी   

25 एकड़ क्षेत्र में बनेगा नया इंटर स्टेट बस टर्मिनल

कांके के वेटनरी कॉलेज के पास 25 एकड़ जमीन पर नया इंटर स्टेट बस टर्मिनल बनेगा. जानकारी के अनुसार जिस जमीन पर बस टर्मिनल निर्माण की योजना है, वह पूरी तरह सरकारी है. इस संबंध में जुडको के जनरल मैनेजर वीएस रेड्डी ने बताया कि टर्मिनल के निर्माण में एक-दो रैयतों के कुछ जमीनों का अधिग्रहण किया जा सकता है. लेकिन किसी भी तरह का कोई मकान नहीं टूटेगा. जिन रैयतों की जमीन ली जाएगी, उन्हे जल्द ही सरकार से मुआवजा भी मिलेगा. यह बस टर्मिनल रिंग रोड के करीब होगा. रिंग रोड से कनेक्टिविटी के लिए 150 फीट चौड़ी 6 लेन रोड का प्रस्ताव तैयार किया जायेगा.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: