न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जयाप्रदा पर अपमानजनक टिप्पणी  :  द्रौपदी के चीर हरण पर भीष्म की तरह मौन न साधें , सुषमा ने  मुलायम से कहा

समाजवादी पार्टी के नेता और रामपुर से सपा उम्मीदवार आजम खान द्वारा भाजपा प्रत्‍़याशी जयाप्रदा के खिलाफ की गयी अपमानजनक टिप्पणी से माहौल गरमा गया है. 

48

NewDelhi :  समाजवादी पार्टी के नेता और रामपुर से सपा उम्मीदवार आजम खान द्वारा भाजपा प्रत्‍़याशी जयाप्रदा के खिलाफ की गयी खाकी अंडरवियर वाली अपमानजनक टिप्पणी से माहौल गरमा गया है.  महिला आयोग ने इस पर संज्ञान लेते हुए आजम खान को नोटिस जारी किया है.  बता दें  कि केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज ने  भी जयाप्रदा के खिलाफ आजम खान की वाहियात टिप्पणी की आलोचना की है.  इस क्रम में सुषमा स्वराज ने आजम खान के इस बयान के लिए मुलायम सिंह यादव पर निशाना साधते हुए उन्हें भीष्म की तरह मौन साधने की गलती न करने की सलाह दी है.

जान लें कि रविवार को एक रैली में आजम खान ने बिना नाम लिये जयाप्रदा के खिलाफ खाकी अंडरवियर वाला बयान दिया था. बता दें कि आपत्तिजनक टिप्पणी करने पर आजम खान के खिलाफ FIR दर्ज की गयी है. आजम खान ने इस टिप्पणी को लेकर सफाई भी दी है. आजम खान ने सोमवार को स्पष्ट किया कि उन्होंने फिल्म अभिनेत्री और भाजपा उम्मीदवार जयाप्रदा के खिलाफ किसी तरह की आपत्तिजनक टिप्पणी नहीं की है.

इसे भी पढ़ें  सेना के अफसरों के बाद अब 200 वैज्ञानिकों ने की अपील, विरोधियों को देशद्रोही बताने वाली ताकतों को न करें वोट

hosp3

रामपुर में द्रौपदी का चीर हरण हो रहा है

सुषमा स्वराज ने अपने ट्विटर हैंडल पर मुलायम सिंह यादव का नाम लेकर लिखा, मुलायम भाई, आप पितामह हैं समाजवादी पार्टी के. आपके सामने रामपुर में द्रौपदी का चीर हरण हो रहा है. आप भीष्म की तरह मौन साधने की गलती मत करिये.’  सुषमा स्वराज ने अपने ट्वीट में अखिलेश यादव और उनकी पत्नी डिंपल यादव और जया बच्चन के नाम का भी उल्लेख किया है और इस मसले पर ध्यान आकर्षित कराने की कोशिश की है.   सुषमा स्वराज ने अपने ट्वीट में जिस द्रौपदी का नाम लेकर महाभारत के उस घटना का जिक्र किया है, उसमें पांडवों की रानी द्रौपदी का कौरव चीरहरण करते हैं और उस दौरान भीष्म पितामह मौन साधे हुए रहते हैं.

दरअसल, आजम खान जिस वक्त यह आपत्तिजनक टिप्पणी कर रहे थे, उस वक्त उस मंच पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव भी मौजूद थे.  रविवार को आजम खान ने जनसभा के दौरान जयाप्रदा पर निशाना साधते हुए कहा था, जिसे हम ऊंगली पकड़कर रामपुर लाये, आपने 10 साल जिससे अपना प्रतिनिधित्व कराया.

महिला आयोग ने आजम खान को नोटिस जारी किया है

उनकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनका अंडरवियर खाकी रंग का है. हालांकि, उन्होंने इस बयान में जयाप्रदा का नाम नहीं लिया था. इस सबंध में जयाप्रदा ने कहा कि उनके लिए यह नयी बात नहीं है. साथ ही कहा कि मुझे नहीं पता कि मैंने उनके साथ ऐसा क्या कर दिया कि वे ऐसी बातें कर रहे हैं. न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए जयाप्रदा ने कहा, यह मेरे लिए नया नहीं है. आपको याद होगा कि मैं 2009 में उनके पार्टी की उम्मीदवार थी, जब उन्होंने मेरे खिलाफ टिप्पणी की तो किसी ने भी मेरा समर्थन नहीं किया. मैं एक महिला हूं और जो उन्होंने कहा वह मैं दोहरा भी नहीं सकती.
महिला आयोग ने इस पर संज्ञान लेते हुए आजम खान को नोटिस जारी किया है. राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा, वह हमेशा महिलाओं के बारे में गंदी बातें करते हैं, और इस चुनाव में महिला राजनेताओं के खिलाफ यह उनकी दूसरी टिप्पणी है.. राष्ट्रीय महिला आयोग ने स्वतः संज्ञान लिया है, और उन्हें नोटिस भेज रहे हैं… हम चुनाव आयोग से भी कड़ी कार्रवाई करने के लिए कह रहे हैं, क्योंकि उनके सबक सीखने का वक्त आ गया है…

इसे भी पढ़ें  तुलाभरम पूजा करते समय गिरे शशि थरूर, घायल हुए, छह टांके लगे

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: