JharkhandRanchi

जिनका दूसरा डोज बाकी उनकी सूची उपलब्ध कराने का निर्देश

बीएलओ घर पहुंचकर बताएंगे, टीका लेना जरुरी है

Ranchi : रांची जिला में कोविड-19 टीकाकरण को और रफ्तार देने के लिए जिला प्रशासन द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे हैं. इसी क्रम में  उपायुक्त रांची के निदेशानुसार डीडीसी रांची विशाल सागर की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में बैठक आयोजित की गई.

बैठक में प्रखंडवार कोविड-19 टीकाकरण की समीक्षा करते हुए संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए. बैठक के दौरान डीडीसी ने बताया कि रांची जिला में लगभग 16 लाख लोगों को कोविड-19 का पहला और लगभग 6 लाख लोगों को दूसरा डोज़ दिया जा चुका है. उन्होंने बताया कि करीब 1 लाख लोग ऐसे हैं, जिन्हें दूसरा डोज़ लेना बाकी है. डीडीसी ने संबंधित पदाधिकारियों को जिनका दूसरा डोज़ बाकी है, उनकी सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया.

advt

बीएलओ बताएंगे टीका लेना बाकी है

डीडीसी ने बताया कि सूची प्राप्त होने के बाद जो लोग सेकंड डोज़ लेने के लिए नहीं आ रहे हैं, उन्हें बीएलओ, सेविका औऱ सहायिका के माध्यम से जानकारी दी जाएगी. यह सभी घर-घर जाकर लोगों को टीका लेने के लिए कहेंगे. बीएलओ, सेविका-सहायिका द्वारा लोगों को पहला डोज लेने के लिए भी प्रेरित किया जायेगा ताकि संक्रमण का खतरा कम किया जा सके.

जिनका सेकंड डोज बाकी उन्हें मिलेगी पर्ची

डीडीसी ने बताया कि उपायुक्त के निर्देशानुसार जिन लोगों ने पहला डोज़ लेने के बाद दूसरा डोज़ नहीं लिया है, उन्हें बीएलओ के माध्यम से एक पर्ची दी जाएगी ताकि वो ससमय अपना दूसरा डोज़ ले सकें. उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन की कोशिश है कि जिनका दूसरा डोज़ बाकी है उन्हें ज्यादा से ज्यादा संख्या में टीका दिया जा सके. उन्होंने बताया कि आने वाले कुछ दिनों में इस दिशा में और तेज गति से कार्य किया जाएगा.

रांची वासियों से डीडीसी की अपील

उप विकास आयुक्त विशाल सागर ने रांची वासियों से अपील की है कि वो अपना और अपने परिवार का ख्याल रखें. उन्होंने कहा कि कोरोना पूरी तरह से गया नहीं है. वैक्सीनेशन कोरोना से बचाव के लिए कवच है. रांचीवासी वैक्सीन जरूर लें और बेहद जरूरी होने पर ही भीड़भाड़ वाले इलाके में जाएं. उन्होंने कहा कि मास्क, सैनिटाइजर का इस्तेमाल करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन भी कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में आवश्यक है.

बैठक में अपर समाहर्त्ता रांची, अपर समाहर्त्ता (नक्सल) रांची, सिविल सर्जन, निदेशक डीआरडीए, डीआरसीएचओ, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, जिला शिक्षा अधीक्षक, जिला शिक्षा पदाधिकारी, डीपीएम हेल्थ, डीआईओ एवं सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी उपस्थित थे.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: