न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

निगम की पहल, स्मार्ट हाउस बनाकर पायें होल्डिंग टैक्स में बड़ी रिबेट

32

Ranchi : रांची नगर निगम अब शहर में भूजल स्तर को बढ़ाने के लिए राजधानी के लोगों को स्मार्ट हाउस बनाने के लिए प्रोत्साहित करने जा रहा है. लोगों द्वारा ऐसा करने पर घर के मालिकों को नगर निगम होल्डिंग टैक्स में बड़ा रिबेट देगा. स्मार्ट हाउस की श्रेणी में आने के लिए घर के मालिकों को निगम द्वारा बनाये गये कई प्रावधानों का पालन करना होगा. प्रस्ताव को अगले निगम बोर्ड की बैठक में लाया जायेगा. प्रस्ताव के मुताबिक, जो मालिक अपने मकान में यह व्यवस्था लागू करेंगे  तो उन्हें निगम होल्डिंग टैक्स में छूट देगा.

इसे भी पढ़ें – मामला BJP MP समीर उरांव के भाई की जमीन खरीद का, LRDC मनोज रंजन व सीओ वंदना भारती की भूमिका संदिग्ध

जानिए, कैसा होगा स्मार्ट हाउस

जानकारी के मुताबिक, स्मार्ट हाउस का दर्जा राजधानी के उन घरों को दिया जायेगा,  जिसमें रेन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम होगा. इसके अलावा उस घर में कम से पांच पेड़-पौधे और घऱ में उपयोग होने वाले पानी के रिसाइकल करने की व्यवस्था होगी. इन तीन चीजों की व्यवस्था करने वाले घर के मालिकों को निगम को इसकी सूचना देनी होगी. उसके बाद निगम के अभियंता संबंधित घऱ जाकर जांच करेंगे. जांच में सब कुछ सही पाये जाने पर इस घर को स्मार्ट हाउस का दर्जा दिया जायेगा. ऐसे हाउस बनाने वाले भवन मालिक को निगम अपने स्तर पर सम्मानित करते हुए प्रशस्ति पत्र भी देगा.

10-25 प्रतिशत की टैक्स में मिलेगी छूट

स्मार्ट घऱों का निर्माण करने वाले लोगों को निगम अपने स्तर पर निर्धारित होल्डिंग टैक्स से रिबेट भी देगी. रिबेट कितना प्रतिशत होगा, इसकी जानकारी अभी नहीं है. लेकिन माना जा रहा है कि रिबेट का प्रतिशत 10-25 प्रतिशत तक हो सकता है.

यह कदम इसलिए उठाया गया है ताकि अधिक से अधिक लोग इस कार्य के लिए प्रेरणा ले सकें. डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय की मानें, तो पर्यावरण संरक्षण एवं दिनों दिन गिरते जलस्तर को लेकर निगम स्मार्ट हाउस का यह कॉन्सेप्ट लाया है. निगम की कोशिश है कि इसी बहाने जल संरक्षण व शहर के हरियाली को वापस लाने के लिए हर एक आदमी प्रेरित हो. जो भी व्यक्ति इसे अपने मकान में लागू करेगा. उसे निगम होल्डिंग टैक्स में छूट देगा

इसे भी पढ़ें – बकोरिया कांड : भेलवाघाटी में सीबीआइ का डेमो शुरू होते ही होने लगी बारिश

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है कि हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें. आप हर दिन 10 रूपये से लेकर अधिकतम मासिक 5000 रूपये तक की मदद कर सकते है.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें. –
%d bloggers like this: