न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत की ऐतिहासिक जीत, श्रृंखला में 1-0 से आगे

जिससे दो मैचों की श्रृंखला में उसने 1-0 से बढ़त हासिल कर ली.

100

Rajkot : भारतीय टीम ने घरेलू परिस्थितियों का पूरा फायदा उठाते हुए शनिवार को पहले क्रिकेट टेस्ट में वेस्टइंडीज को तीन दिन के भीतर पारी और 272 रन से रौंद दिया.

यह भारत की वेस्टइंडीज पर सबसे बड़ी जीत है. भारत ने दबदबा बनाते हुए पहली पारी नौ विकेट पर 649 रन पर घोषित की थी, जिसके बाद उसने अपने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर वेस्टइंडीज को तीसरे दिन दो बार समेट दिया जिससे दो मैचों की श्रृंखला में उसने 1-0 से बढ़त हासिल कर ली.

Trade Friends

इसे भी पढ़ें : अब साइबर सुरक्षा में नहीं लगेगी सेंध, देश में छह परमाणु घड़ियां होंगी स्थापित

विपक्षी बल्लेबाजों को बड़ी पारी खेलने का नहीं दिया मौका

वेस्टइंडीज की टीम लंच से पहले पहली पारी में 48 ओवर में 181 रन पर सिमट गयी थी और उम्मीद के अनुरूप उसे फालो आन मिला। लेकिन उसके खिलाड़ी दूसरी पारी में भी बेहतर बल्लेबाजी नहीं कर सके और फिर अंतिम सत्र में पूरी टीम 50.5 ओवर में 196 रन पर आल आउट हो गयी।

रविचंद्रन अश्विन (पहली पारी में 37 रन देकर चार विकेट) ने सुबह के सत्र में शानदार गेंदबाजी की लेकिन दूसरी पारी में कुलदीप यादव (57 रन देकर पांच विकेट) ने विपक्षी बल्लेबाजों को बड़ी पारी खेलने का मौका नहीं दिया। इस तरह कुलदीप ने टेस्ट में पहली बार पांच विकेट भी अपने नाम किये.

Related Posts

#Dhoni के लम्बे ब्रेक पर बोले सौरभ गांगुली- सेलेक्टर्स से करूंगा बात, माही से भी होगी बातचीत

गांगुली ने कहा- मैं जानना चाहता हूं कि चयनकर्ता धोनी के भविष्य के बारे में क्या सोचते हैं.

WH MART 1

इसे भी पढ़ें : ओपीनियन पोल : छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान से बाहर होगी भाजपा, कांग्रेस की वापसी

पृथ्वी सॉ का दिखा कहर

दूसरा और अंतिम टेस्ट हैदराबाद में 12 से 16 अक्टूबर तक खेला जायेगा. राजकोट में लचर प्रदर्शन करने वाली वेस्टइंडीज टीम को अब अपने खेल में सुधार करना होगा. कप्तान जेसन होल्डर और तेज गेंदबाज केमार रोच की अनुपस्थिति से भी उनकी परेशानी बढ़ गयी है.

इसे भी पढ़ें : माेदी का स्वच्छ भारत अभियान विफल, यह सरकारी पैसे का दुरुपयोग है : कांग्रेस

भारत के लिये यह मुकाबला पृथ्वी साव के टेस्ट पटल पर शानदार उदय के लिये याद रखा जायेगा जिन्होंने पदार्पण मुकाबले में शतक जड़कर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में प्रवेश किया और टेस्ट में ऐसा करने वाले देश के सबसे युवा खिलाड़ी बने. उनके अलावा इस टेस्ट में विराट कोहली और रविंद्र जडेजा भी शतकवीर रहे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like