न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भारत बढ़ती आर्थिक शक्ति, भारत को तेल के आयात-निर्यात में काबिल बनायेंगे : सऊदी अरब

सऊदी अरब भारत में भंडारण सुविधाओं के निर्माण तथा रिफाइनरी को सुदृढ़ करने में अरबों डालर निवेश करेगा

14

NewDelhi : सऊदी अरब के विदेश मंत्री अदेल बिन अहमद अल-जुबेर ने कहा है कि  सऊदी अरब कच्चे तेल की आपूर्ति के लिए भारत को क्षेत्रीय केंद्र बनाने पर विचार कर रहा है. सऊदी अरब भारत में भंडारण सुविधाओं के निर्माण तथा रिफाइनरी को सुदृढ़ करने में अरबों डालर निवेश करेगा.  दुनिया का सबसे बड़ा तेल निर्यातक सऊदी अरब भारत में पेट्रालियम उत्पादों के वितरण और विपणन क्षेत्र में भी निवेश करने जा रहा है. वह भारत को पेट्रोरसायन क्षेत्र में बुनियादी ढांचे को मजबूत करने में मदद करेगा. बता दें कि  सऊदी अरब के युवराज मोहम्मद बिन सलमान के प्रतिनिधिमंडल में शामिल विदेश मंत्री ने कहा कि उनका देश भारत को बढ़ती आर्थिक शक्ति के रूप में देखता है और उसकी आगे की वृद्धि को लेकर आशावान है.

अल जुबेर ने पिछले सप्ताह पीटीआई से बातचीत में कहा, हम भारत को क्षेत्र में कच्चे तेल की आपूर्ति का केंद्र बनाने पर विचार कर रहे हैं. हम यहां भंडारण सुविधाएं बनाने पर विचार कर रहे हैं.  हम रिफाइनरी और वितरण तथा विपणन क्षेत्र पर भी गौर कर रहे हैं.  उन्होंने कहा, हम ऐसी ढांचागत सुविधा में निवेश कर रहे हैं जो भारत को पेट्रोलियम उत्पादों के आयात और निर्यात के काबिल बनायेगा.

44 अरब डालर की लागत सबसे बड़ा रिफाइनरी परिसर बन रहा है

बता दें कि सऊदी अरब ने हाल ही में यह घोषणा की थी कि दुनिया की सबसे बड़ी तेल निर्यातक कंपनी सऊदी अरामको महाराष्ट्र में 44 अरब डालर की लागत से संयुक्त उद्यम के तहत स्थापित होने वाली रिफाइनरी परियोजना में भागीदार होगी. यह दुनिया की सबसे बड़ी रिफाइनरी होगी जिसका निर्माण एक बार में किया जायेगा.  अल-जुबेर ने कहा, हम भारत की भागीदारी के साथ 44 अरब डालर की लागत सबसे बड़ा रिफाइनरी परिसर बना रहे हैं. उन्होंने कहा,  हम भारत को एक बढ़ती आर्थिक शक्ति तथा एक स्थिर एवं अवसरों वाला देश के रूप में देख रहे है.  इसीलिए हम भारत के साथ बेहतर और मजबूत संबंध चाहते हैं. सऊदी अरब के विदेश मंत्री ने यह भी कहा कि उनका देश भारत की तेल मांग को पूरा करने को प्रतिबद्ध है तथा और कच्चा तेल बेचने को तैयार है.

इसे भी पढ़ें :   दलित हैं, इसलिए मैं और मल्लिकार्जुन खड़गे सीएम नहीं बन पाये :  उपमुख्यमंत्री परमेश्वर 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: